Move to Jagran APP

Hathras Stampede Case: सुप्रीम कोर्ट करेगी हाथरस भगदड़ मामले की सुनवाई, तय हुई तारीख; याचिका में की गई ये मांगें

हाथरस मामले में अब सुप्रीम कोर्ट सुनवाई करेगा। इसकी तारीख भी तय कर दी गई है। याचिकाकर्ता और पेशे से वकील विशाल तिवारी ने याचिका दाखिल की है। जनहित याचिका में भगदड़ की जांच के लिए शीर्ष अदालत के सेवानिवृत्त न्यायाधीश की निगरानी में पांच सदस्यीय विशेषज्ञ समिति गठित करने की मांग की गई है। बता दें कि इस हादसे में 121 लोगों की मौत हो गई थी।

By Agency Edited By: Nidhi Avinash Tue, 09 Jul 2024 12:24 PM (IST)
सुप्रीम कोर्ट करेगी हाथरस भगदड़ मामले की सुनवाई (Image: ani)

एएनआई, नई दिल्ली। हाथरस भगदड़ मामले को लेकर बड़ा अपडेट आया है। दरअसल, अब इस मामले की सुनवाई सुप्रीम कोर्ट में होगी जिसकी तारीख भी तय हो चुकी है। भगदड़ को लेकर सुप्रीम कोर्ट में दाखिल जनहित याचिका पर जल्द से जल्द सुनवाई की मांग की गई है। बता दें कि इस हादसे में 121 लोगों की मौत हुई थी। 

किसने की याचिका दाखिल?

हाथरस भगदड़ मामले को लेकर सुप्रीम कोर्ट के वकील विशाल तिवारी ने याचिका दाखिल की है। जनहित याचिका में भगदड़ की जांच के लिए शीर्ष अदालत के सेवानिवृत्त न्यायाधीश की निगरानी में पांच सदस्यीय विशेषज्ञ समिति गठित करने की मांग की गई है। याचिका में घटना के जिम्मेदार लोगों और अधिकारियों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई के लिए भी कहा गया है। 

हाथरस मामले में क्या बोले CJI चंद्रचूड़?

याचिकाकर्ता और अधिवक्ता विशाल तिवारी ने तत्काल सुनवाई के लिए अपनी याचिका का उल्लेख किया है। हालांकि, मुख्य न्यायाधीश डी वाई चंद्रचूड़ ने इस मामले को लेकर कल (सोमवार) को ही याचिका को सूचीबद्ध करने का आदेश दे दिया था। 

इसके अलावा उत्तर प्रदेश सरकार को 2 जुलाई की घटना पर स्थिति रिपोर्ट पेश करने और अधिकारियों, कर्मचारियों और अन्य के खिलाफ उनकी लापरवाही के लिए कानूनी कार्रवाई शुरू करने का निर्देश देने की भी मांग की गई है।

कैसे हुआ हाथरस हादसा?

पिछले मंगलवार को हाथरस में एक धार्मिक समागम में भगदड़ मचने से 121 लोगों की मौत हो गई थी। हाथरस जिले के फुलराई गांव में बाबा नारायण हरि द्वारा आयोजित 'सत्संग' के लिए 2.5 लाख से अधिक श्रद्धालु एकत्र हुए थे, जिन्हें साकार विश्वहरि भोले बाबा के नाम से भी जाना जाता है।

यह भी पढ़ें: Hathras Stampede: जिन पुलिसकर्मियों के कंधाें पर थी भीड़ की सुरक्षा की जिम्मेदारी, वो बाबा के सत्संग में लीन दिखे

यह भी पढ़ें: Hathras Stampede Case: 'हाथरस घटना के पीड़ित परिवारों को म‍िले 50 लाख रुपए का मुआवजा', राकेश ट‍िकैट ने सरकार से की मांग