मुंबई, राज्य ब्यूरो। प्रवर्तन निदेशालय ने माफिया सरगना दाऊद इब्राहिम के साथी इकबाल मिर्ची से संबंधित एक मामले में पूर्व केंद्रीय मंत्री प्रफुल पटेल की संपत्ति की चार मंजिलें जब्त कर ली हैं। पटेल राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) के नेता हैं। मुंबई के महंगे इलाके वर्ली स्थित सीजे हाउस की चार मंजिलें प्रफुल पटेल के परिवार से संबंधित हैं। ईडी का कहना है कि इनकी जब्ती की पुष्टि के बाद अब पटेल परिवार को यह संपत्ति खाली करनी पड़ेगी। वास्तव में इन संपत्ति की कुर्की का आदेश पिछले साल ही निकला था। अब न्यायिक प्राधिकरण ने इन संपत्तियों की कुर्की की पुष्टि कर दी है।

ईडी का दावा है कि समझौता 2007 में हुआ था

इसी इमारत की दो मंजिलें इकबाल मिर्ची के परिवार की भी थीं। ईडी द्वारा उन्हें भी जब्त किया जा चुका है। ये संपत्तियां व्यावसायिक उद्देश्य से इस्तेमाल होती रही हैं। प्रफुल पटेल पर आरोप है कि उन्होंने इकबाल मिर्ची से समझौता करके ये संपत्तियां खरीदी थीं।

ईडी का दावा है कि यह समझौता 2007 में हुआ था। हालांकि पूर्व नागरिक उड्डयन मंत्री प्रफुल पटेल बार-बार इस आरोप से इंकार करते रहे हैं। मनी लांड्रिंग से जुड़े इस मामले में ईडी पीएमएलए एक्ट के तहत जांच कर रही है। इस मामले में आरोपपत्र भी पेश किया जा चुका है। ईडी इस मामले में प्रफुल पटेल से 2019 में पूछताछ भी कर चुकी है।

ये भी पढ़ें- कम खर्च, ईज ऑफ डूइंग बिजनेस और फंडिंग में आसानी से सिर्फ 7.8 साल में यूनिकॉर्न बन रहे देसी स्टॉर्टअप

ये भी पढ़ें- Fact Check Story: आलिया भट्ट और उनकी बेटी के नाम से वायरल हो रही तस्वीर एडिटेड है

Edited By: Shashank Mishra