भोपाल, ऑनलाइन डेस्क। बॉलीवुड के किंग और मशूहर अभिनेता शाहरूख खान और दीपिका पादुकोण की फिल्म पठान आज सिनेमा घरों में रिलीज हो ही गई है। लेकिन पठान रिलीज होने से पहले भी विवादों में थी और वह रिलीज होने के बाद भी विवादों में है। पठान के रिलीज दिन पर कई जगह लोगों का प्रर्दशन यूंही जारी है। मध्य प्रदेश के बड़वानी में भी पठान को लेकर पुरजोर विरोध प्रर्दशन किया गया था। विश्व हिंदू परिषद बजरंग दल के जिला संगठन मंत्री नरेंद्रसिंह परमार के नेतृत्व में नगर की तीन सिनेमाघरों में पठान फिल्म का विरोध कर फ्लेक्स जलाकर प्रदर्शन किया। दरअसल इस फिल्म के रिलीज होने पर बड़वानी के तीन सिनेमाघरों में पोस्टर बैनर लगाए गए थे।

सिनेमाघरो में चली पठान तो होगा उग्र आंदोलन- नरेंद्र सिंह

बड़वानी में विश्व हिन्दू परिषद बजरंग दल के जिला संगठन मंत्री के नेतृत्व में नगर में विरोध प्रदर्शन किया गया था। तो वहीं उन्होंने पठान के सिनेमा घरों में चलाए जाने पर भी उग्र प्रर्दशन की बात कही है। विहिप बजरंग दल जिला संगठन मंत्री नरेंद्र सिंह परमार ने बताया कि सिनेमाघरों के संचालकों को यह फिल्म न चलाए जाने को लेकर चर्चा की गई है। यदि वह सिनेमाघरो में फिर भी मूवी चलाते हैं तो उग्र आंदोलन किया जाएगा। हालांकि टॉकीज संचालक ने उन्हें आश्वासन दिया है कि वह उक्त फिल्म अपनी टॉकीज में प्रदर्शित नहीं करेगा।

महाराष्ट्र और गुजरात में भी पठान का विरोध

महाराष्ट्र और गुजरात में तो बजरंग दल और विश्व हिंदू परिषद के कार्यकर्ताओं ने धमकी तक दी थी कि वो सिनेमाघरो में पठान फिल्म को रिलीज नहीं होने देंगे। तो वहीं पठान फिल्म का विरोध करने वाले बजरंग दल और विश्व हिंदू परिषद के कार्यकर्ताओं को ठाणे पुलिस ने नोटिस दिया है। इससे पहले संगठन के सभी कार्यकर्ताओं ने महाराष्ट्र में कई जगह फिल्म का पोस्टर फाड़कर विरोध जताया था।

यह भी पढ़े- "मुझे रात से धमकियां मिल रही हैं" BBC डॉक्युमेंट्री विवाद पर कांग्रेस से इस्तीफा देने के बाद बोले अनिल एंटनी

क्यों हो रहा है पठान का विरोध?

पठान मूवी शुरू से ही विवादों में रही है। पूरी फिल्म में बवाल की वजह फिल्म के 'बेशरम रंग’ गाने से है। गाने से लेकर ही यह पूरा विवाद शुरू हुआ था। इस गाने में अभिनेत्री दीपिका पादुकोण को भगवा रंग की बिकिनी में दिखाया गया था। जिसके बाद 'पठान' को आलोचनाओं का सामना करना पड़ा था। लोगों ने पुरजोर विरोध जताया था। विहिप सहित कई संगठनों के नेताओं ने फिल्म पर प्रतिबंध लगाने की मांग की थी।

यह भी पढ़े- Republic Day 2023: 901 पुलिस कर्मियों को दिया जाएगा पुलिस पदक, CRPF और जम्मू कश्मीर के जवान भी हैं शामिल

Edited By: Preeti Gupta

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट