जागरण ब्यूरो, भोपाल। राजधानी में एक घरेलू नौकरानी की ऐसी हरकत सामने आई है, जिसे सुनकर हर कोई स्तब्ध है। एक आर्कीटेक्ट की नौकरानी खाने में पेशाब मिलाकर पूरे परिवार को खिला रही थी। क्लोज सर्किट टीवी कैमरे से पकड़ में आई नौकरानी ने उलटे आरोप लगा दिया है कि घर मालिक उसकी नातिन पर गलत नजर रखते थे, इसलिए उसने ऐसा किया।

रविवार शाम पकड़ में आई आशा कौशल नामक यह 55 वर्षीय महिला सोमवार को जमानत पर रिहा भी हो गई। सुरेंद्र गार्डन में रहने वाले मुकेश सूरी इंटीरियर डेकोरेशन एजेंसी संचालित करते हैं। काम के सिलसिले में वे अक्सर बाहर रहते हैं। चार दिन पहले उनकी पत्‍‌नी ने बताया कि कुछ दिनों से किराने का सामान जल्दी खत्म हो रहा है। उन्हें नौकरानी पर शक हुआ। इसके लिए उन्होंने किचन समेत पूरे घर में चार सीसीटीवी कैमरे लगवाए।

एक दिन पहले जब नौकरानी किचन में खाना बना रही थी, तो सूरी घर में लगे कैमरे में यह देखकर सन्न रह गए कि वह खाने में पेशाब मिला रही है। पूरा परिवार इससे परेशान हो गया। उन्होंने रिकार्डिग देखी तो आशा घरेलू सामान भी कपड़ों में छिपाकर ले जाती हुई दिखी।

इसकी शिकायत उन्होंने मय रिकार्ड के बागसेवनिया पुलिस को दी। पुलिस ने आशा को चोरी और घृणित मानव व्यवहार अधिनियम के तहत कार्रवाई कर गिरफ्तार कर लिया। उसे सोमवार को अदालत में पेश किया गया, जहां से जमानत पर रिहा हो गई।

इसलिए की घिनौनी हरकत

आशा ने पुलिस को जो बयान दिए हैं, उसमें उसने अपने गंदे काम को छिपाने के लिए सूरी पर ही आरोप लगा दिए हैं। उसका कहना है कि वह अपनी 20 वर्षीय नातिन को भी काम कराने के लिए लेकर आती थी, तो उस पर गलत नजर रखी जाती थी। उसने सूरी पर आरोप लगाया कि वे कहते थे कि उसे रोज लेकर आओ। हालांकि पुलिस को यह कहानी गले नहीं उतर रही। कारण सूरी के परिवार में आठ लोग हैं, जिनमें उनकी मां, पत्‍‌नी बच्चे और छोटे भाई का भी परिवार है।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस