नई दिल्ली, लाइफस्टाइल डेस्क। मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल अपनी सभ्यता और संस्कृति के लिए जाना जाता है। इसे झीलों का शहर भी कहा जाता है। साथ ही भोपाल का ताजमहल भी पर्यटकों के लिए आकर्षण का केंद्र है। हर साल काफी संख्या में पर्यटक भोपाल घूमने आते हैं। भोपाल में कई अन्य पर्यटन स्थल हैं, जो अपनी खासियत के लिए पॉपुलर हैं। हाल के दिनों में प्रदेश सरकार ने पर्यटकों को रिझाने के लिए कई योजनाओं की शुरुआत की है। अगर आप भी भोपाल की खूबसूरती और संस्कृति से रूबरू होना चाहते हैं, तो भोपाल की इन जगहों की सैर जरूर करें। आइए, इसके बारे में सबकुछ जानते हैं -

भोपाल का ताजमहल

नाम सुनकर आप चौक गए होंगे। यह बात पूरी तरह से सत्य है। भोपाल में भी ताजमहल है, जो दिखने में हूबहू आगरा के ताजमहल की तरह है। इस ताजमहल का निर्माण नवाब शाह जंहा बेगम ने करवाया था। इतिहासकारों की मानें तो नवाब शाहजंहा कलाप्रेमी थी। उन्हें वास्तुकला में बहुत दिलचस्पी थी। भोपाल के ताजमहल के निर्माण में कुल 13 वर्ष लग गए थे। जब कभी भोपाल जाएं, तो भोपाल के ताजमहल का दीदार जरूर करें।

बिरला म्यूजियम

किसी भी सभ्यता और संस्कृति और इतिहास को जानने के लिए म्यूजियम बेहतर विकल्प होता है। आप भोपाल की संस्कृति और सभ्यता से रूबरू होने के लिए बिरला म्यूजियम जरूर जाएं। वास्तुकला से लेकर दूसरी सदी की हस्तलिपि, पेंटिंग और शिलालेख भी म्यूजियम में हैं।

लक्ष्मण झूला

जैसा कि आप सबको पता है कि भोपाल को झीलों का शहर कहा जाता है। यह झूला ऋषिकेश के प्रसिद्ध लक्ष्मण झूला की तरह है, जो भोपाल में बड़ा तालाब के पूल पर है। इसे पर्यटकों को रिझाने के लिए किया गया था। पूल की लंबाई 183 मीटर है और चौड़ाई तकरीबन 4 मीटर है। जब आप भोपाल जाएं, तो लक्ष्मण झूला देखने जरूर जाएं। साथ ही आप भोपाल में कई धार्मिक स्थलों की सैर कर सकते हैं।

Edited By: Pravin Kumar