Move to Jagran APP

Toxic रिश्तेदारों या कलीग्स ने कर रखा है जीना मुहाल, तो इन तरीकों से करें उन्हें हैंडल

टॉक्सिक लोगों की संगत में ज्यादा रहने से आप दुख गुस्सा नेगेटिविटी जैसी कई तरह की मानसिक परेशानियों का शिकार हो सकते हैं। ये सारी प्रॉब्लम्स पर्सनल और प्रोफेशनल दोनों ही लाइफ के लिए खराब कर सकती हैं। अगर आप भी घिरे हुए हैं ऐसे लोगों से तो जितना जल्द हो सके इनसे किनारा कर लें वरना हो सकती है दिक्कत।

By Priyanka Singh Edited By: Priyanka Singh Thu, 11 Jul 2024 01:43 PM (IST)
टॉक्सिक लोगों से निपटने के तरीके (Pic credit- freepik)

लाइफस्टाइल डेस्क, नई दिल्ली। हमारे आजू-बाजू ऐसे कुछ न कुछ ऐसे लोग जरूर मौजूद होते हैं, जो अपने साथ अजीब सी नेगेटिविटी लेकर चलते हैं। ऐसे लोग आपको अपने ऑफिस से लेकर आस-पड़ोस और रिश्तेदारों में सबसे ज्यादा देखने को मिल जाएंगे। इनका पूरा फोकस आपकी लाइफ में भी नेगेटिविटी भरना होता है, आपको दुखी देखना होता है और कई बार वो कामयाब भी हो जाते हैं। ऐसे लोगों का साथ आपके अच्छे-भले जीवन में जहर घोल सकता है। आपके सोचने-समझने की क्षमता को कम कर सकता है और आपको भी उनकी तरह बना सकता है। ऐसे लोगों से जितना दूर रहें उतना अच्छा होता है। इनकी कुछ खास पहचान होती है, जिसके बारे में आज हम जानेंगे, साथ ही उनसे निपटने के तरीके भी। 

टॉक्सिक लोगों की पहचान

  • हर वक्त नेगेटिव बातें करना
  • जलन की भावना रखना
  • आपके दुख को देखकर खुश होना
  • अपनी प्रॉब्लम्स का ठीकरा आप पर फोड़ना 

ये भी पढ़ेंः- जब कपल्स की Income में हो बहुत ज्यादा गैप, तो इन तरीकों से सुलझाएं रुपए-पैसों को लेकर होने वाली बहसबाजी

ऐसे निपटें टॉक्सिक लोगों से

1. टॉक्सिक लोगों से कम से कम बातचीत करें। बिना मतलब के उनसे न ही बात करें। बातचीत के दौरान अगर वो पर्सनल कमेंटबाजी करते हैं, तो उसे दिल पर न लें। साथ ही अपनी सीमाएं निर्धारित करें।  

2. इस बारे में बहुत ज्यादा न सोचें कि कहीं उन्हें बुरा तो नहीं लग जाएगा। खुद को प्रियोरिटी पर रखें। उनकी बातों से अगर आप हर्ट हो रहे हैं, तो अपने बारे में सोचें। आपके इस एटीट्यूड से हो सके उन्हें अपनी गलती नजर आए और वो सुधरने की कोशिश करें, लेकिन अगर कोई सुधार नजर नहीं आ रहा, तो कलीग्स हो या रिश्तेदार किनारा कर लें।

3. टॉक्सिक फैमिली मेंबर्स को बातचीत से नहीं सुधारा जा सकता, ये जान लें। अगर आपको उनकी कोई बात बुरी लगती है, तो इसे दिल में रखकर घुंटने की जगह उनसे इस पर क्लीयर बात करें। 

4. ऐसे लोगों हर वक्त ड्रामा क्रिएट करने की कोशिश करते रहते हैं, तो उसमें खुद को न उलझने दें। अगर आपसे रिलेटेड है तभी उसमें शामिल हों। 

ये भी पढे़ंः- जादू की तरह काम करते हैं तारीफ के दो बोल, Relationship के साथ प्रोफेशनल लाइफ में भी दिखता है इसका फायदा