नई दिल्ली, लाइफस्टाइल डेस्क। World Thyroid Day 2022: थायराइड एक ऐसी बीमारी बन चुकी है जिससे आज दुनिया का हर पांचवां व्यक्ति प्रभावित है। हालांकि पुरुषों की अपेक्षा महिलाओं में ये समस्या ज्यादा देखने को मिलती है। थायराइड हार्मोन हमारे शरीर के कई जरूरी फंक्शन्स के लिए जिम्मेदार होता है। इस वजह से इसकी कम या ज्यादा मात्रा सेहत को बुरी तरह से प्रभावित करने लगती है। आइए जानते हैं ऐसे ही कुछ बदलावों के बारे में जो थायराइड हार्मोन की गड़बड़ी को ओर करते हैं इशारा। हालांकि थायराइड के उपचार में योग बहुत ही कारगर माना जाता है। 

थायराइड की समस्या दो प्रकार की होती हैः-

1. हाइपर थायराइड

इसमें थायराइड हार्मोन बहुत ज्यादा मात्रा में बनने लगता है जिससे शरीर का वजन तेजी से कम होने लगता है।

2.हाइपो थायराइड

इसमें थायराइड हार्मोन कम मात्रा में बनता है। जिससे पाचन तंत्र संबंधी गड़बड़ियां शुरू हो जाती हैं और मोटापा भी बढ़ने लगता है।

लक्षण जो करते हैं थायराइड हॉर्मोन गड़बड़ी की ओर इशारा

- थायराइड हॉर्मोन के असंतुलित होने की वजह से बाल तेजी से झड़ते हैं। सिर ही नहीं आइब्रोज़ के बाल भी कम होने लगते हैं।

- रातभर की पूरी नींद लेने के बाद भी दिनभर थकान का एहसास होते रहता है और कमजोरी भी लगती रहती है।

- बेवजह की चिंता और तनाव

- थायराइड हार्मोन के अंसतुलन की वजह से मोटापा या तो तेजी से बढ़ने लगता है या फिर वजन एकदम से कम होने लगता है।

- महिलाओं में थायराइड हॉर्मोन की कमी की वजह से पीरियड्स भी अनियमित हो जाते हैं। 

- थायराइड की समस्या में कभी तो बहुत ज्यादा गर्मी लगती है तो कभी बहुत ज्यादा ठंड।

- इसके अलावा इस समस्या में थायराइड ग्रंथि में सूजन भी आ जाती है, जिसकी वजह से आवाज प्रभावित होती है।

- हॉर्मोन के ऊपर-नीचे होने से कब्ज की समस्या भी हो सकती है।

तो ऊपर बताए गए किसी भी चीज़ से अगर आप प्रभावित हैं तो बिना देर किए डॉक्टर से संपर्क करें और उनके बताए गए उपचार को फॉलो करें। 

Pic credit- freepik

Edited By: Priyanka Singh