Move to Jagran APP

Railway News: ट्रेन का खाना खाते हैं तो हो जाएं अलर्ट! जांच में हुआ होश उड़ा देने वाला खुलासा

Railway News ट्रेन नंबर 12860 12870 और 12889 के पेंट्रीकार का औचक निरीक्षण किया गया। चक्रधरपुर रेल मंडल के एसीएम विनीत कुमार और एएसीएम बबन कुमार के द्वारा अचानक किए गए निरीक्षण के दौरान बेंगलुरु एक्सप्रेस में रेलवे कैटरिंग नीतियों का गैर-अनुपालन देखा गया। पेंट्रीकार डीलर का खाद्य लाइसेंस बाद भी खाने पीने का सामान बेचा जा रहा था।

By Rupesh Kumar Edited By: Shashank Shekhar Published: Sun, 19 May 2024 07:53 PM (IST)Updated: Sun, 19 May 2024 07:53 PM (IST)
Railway News: ट्रेन का खाना खाते हैं तो हो जाएं अलर्ट! जांच में हुआ होश उड़ा देने वाला खुलासा

जागरण संवाददाता, चक्रधरपुर। चक्रधरपुर रेल मंडल के एसीएम विनीत कुमार और एएसीएम बबन कुमार ने ट्रेन नंबर 12860, 12870 और 12889 में लगे पेंट्रीकार का औचक निरीक्षण किया। इस दौरान ट्रेन नंबर 12889 एसएमवीटी बेंगलुरु एक्सप्रेस में रेलवे कैटरिंग नीतियों का गैर-अनुपालन देखा गया।

पेंट्रीकार डीलर का खाद्य लाइसेंस 13 फरवरी 2023 तक का था। इसके बाद भी वह ट्रेन में खाने पीने का सामान बेच रहा था। पेंट्रीकार में रेट चार्ट प्रदर्शित नहीं किया गया।

इन ट्रेनों में किया गया औचक निरीक्षण

वहीं, पेंट्रीकार में शिकायत रजिस्टर बुक नहीं मिली, जिसमें यात्री शिकायत दर्ज नहीं करा सके। वहीं, पेंट्रीकार से 18 कार्टन अनाधिकृत स्प्रिंग नामक ब्रांड के पैकेज्ड ड्रिंकिंग वॉटर को जांच के बाद जब्त किया गया। इसके अलावा अनाधिकृत रूप से पेंट्री स्टाफ ट्रेन में काम कर रहे थे, जिसका रेलवे के साथ पंजीकरण भी नहीं था।

वहीं, ट्रेन नंबर 12870 मुंबई सीएसएमटी साप्ताहिक एक्सप्रेस और ट्रेन नंबर 12860 गीतांजलि एक्सप्रेस के पेंट्रीकार में चार कर्मचारियों के पास पुलिस सत्यापन रिकॉर्ड नहीं था। इसके अलावा अवैध जल ब्रांडों के डिब्बे भी स्प्रिंग और अमस्ट को जब्त कर लिया गया।

पेंट्रीकार संचालकों के खिलाफ होगी कड़ी कार्रवाई- ACM

ट्रेनों में पैकेजिंग किया हुआ खाना बेचने का प्रावधान है, जबकि भोजन बना कर बेचने की तैयारी पेंट्री कार में ही की जा रही थी, जो पूरी तरह से रेलवे मानदंडों के अनुसार निषिद्ध है। वहीं, पेंट्रीकार में चावल, मछली और आलू के बैग जब्त कर लिए गए। यह सब सामान पेंट्रीकार में खाना बनाने के लिए उपयोग किया जा रहा था।

पेंट्रीकार में कार्यरत कर्मचारियों की उपस्थिति पंजिका का रखरखाव ठीक से नहीं किया जा रहा था। साफ-सफाई और भोजन की स्वच्छता टीम द्वारा जांच भी की गई। पेंट्री में गैरकानूनी गतिविधियाें काे उखाड़ने के लिए लगातार निरीक्षण रेलवे के अधिकारियों द्वारा किया जा रहा है। एसीएम विनीत कुमार ने कहा कि पेंट्रीकार संचालकों के उपर रेलवे कठोर कारवाई करेगी।

ये भी पढ़ें- 

घर में सिर्फ तीन बल्ब, तीन पंखा और एक फ्रीज, फिर भी पहुंचा छप्पर फाड़ बिल; देखते ही सदमे में परिवार

Sail अफसरों के लिए बड़ी खुशखबरी, अब मिलेगी ये सुविधा; बस पूरी करनी होगी ये शर्त


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.