Move to Jagran APP

रांची के सुखदेव नगर थाना प्रभारी पर बाप-बेटे से मारपीट का आरोप, सांसद ने एसएसपी से की शिकायत

Jharkhand News Sukhdeo Nagar Thana रांची के सुखदेव नगर थाना प्रभारी पर एक व्यक्ति और उसके बेटे के साथ थाने लाकर पीटने का आरोप है। जानकारी मिलने पर रांची के सांसद संजय सेठ ने एसएसपी से शिकायत की है।

By Sujeet Kumar SumanEdited By: Wed, 25 Aug 2021 08:14 AM (IST)
Jharkhand News, Sukhdeo Nagar Thana सुखदेव नगर थाना प्रभारी पर एक व्यक्ति और बेटे के साथ पीटने का आरोप है।

रांची, जासं। रांची के रातू रोड के रहने वाले संदीप गुप्ता और उसके चार साल के बेटे दीप के साथ सुखदेव नगर थाने में मारपीट की गई है। आरोप है कि सुखदेव नगर थाना प्रभारी ममता कुमारी ने संदीप और उसके बेटे दीप को बेरहमी से पीटा। संदीप ने मामले में इंसाफ के लिए डीजीपी को पत्र लिखा है। सांसद संजय सेठ ने भी इस मामले में एसएसपी से बात कर मामले की जांच कराने के बाद दोषी पाए जाने पर सुखदेव थाना प्रभारी पर कार्रवाई करने को कहा है। एसएसपी ने सांसद को बताया है कि मामला उनके संज्ञान में है और इसकी जांच कराई जा रही है।

संदीप गुप्ता मेन रोड में आप्टिकल की दुकान चलाते हैं। उनका पत्नी मोनिका से विवाद चल रहा है। इस मामले में सुखदेव नगर थाना और महिला थाने में पहले से ही केस दर्ज है। संदीप ने बताया कि उनका बेटा दीप अपनी मां मोनिका से मिलने की जिद कर रहा था। इस पर वह रक्षाबंधन वाले दिन बेटे को लेकर सुखदेव नगर स्थित मोनिका के घर चले गए। संदीप का कहना है कि मोनिका उन्हें देखते ही हंगामा करने लगी और पुलिस को बुला लिया। संदीप का आरोप है कि थाने में उनके साथ मारपीट की गई।

मारपीट का आरोप वे सीधे सुखदेवनगर थाना प्रभारी पर लगा रहे हैं। संदीप अपने पुत्र को लेकर मंगलवार को सदर अस्पताल में इलाज कराने पहुंचे। वहां एक कार्यक्रम में शामिल होने आए सांसद संजय सेठ भी पहुंचे। संदीप ने मामले की शिकायत संजय सेठ से की और पीठ पर लगे चोट के निशान भी दिखाए। दीप ने भी लोगों को बताया कि उसकी और उसके पिता की पिटाई पुलिस ने ही की है। इसके बाद सांसद संजय सेठ ने एसएसपी को फोन कर मामले की जांच कराने और दोषी पाए जाने पर सुखदेव थाना प्रभारी के खिलाफ कार्रवाई करने को कहा है।

जख्म बयां कर रहे जुल्म की दास्तां

संदीप के शरीर पर जख्म के निशां जुल्म की दास्तां बयां कर रहे हैं। संदीप के पीठ से लेकर पूरे बदन पर पिटाई के निशान उभर आए हैं। संदीप ने बताया कि जब उसका बेटा अपने पिता को पिटता देख रो रहा था, तब उसे भी पीटा गया। संदीप का कहना है कि थाना प्रभारी ने खुद उनके साथ बेवजह मारपीट की है।

मोनिका ने पति को झूठा बताया

इस मामले में संदीप की पत्नी मोनिका का कहना है कि उसके पति झूठ बोल रहे हैं। थाने में वे हंगामा कर रहे थे। इसी समय खींचतान में उन्हें चोट आई है। उनका कहना है कि पुलिस ने संदीप पर हाथ नहीं उठाया है।