झुमरी तिलैया

(कोडरमा): धनतेरस के ठीक एक दिन पहले रेलवे ने यात्रियों को बड़ा तोहफा दिया है। वर्षों से प्रस्तावित कोडरमा-गिरिडीह एवं कोडरमा-बड़काकाना अंतर्गत कोडरमा से कोआर एवं कोडरमा से हजारीबाग टाउन तक के लिए रविवार को दोगुनी रफ्तार से रेल परिचालन का स्पीड ट्रायल किया गया। दोनों रेलखंडों पर दोगुनी रफ्तार से गाड़ी दौड़ी। वर्तमान में दोनों ही रेलखंड पर 50 किलोमीटर प्रतिघंटा की रफ्तार से ट्रेन चल रही है। वहीं रेलवे ने उन रेलखंडों पर एक डीजल इंजन व एक डब्बा के साथ 80 से 100 किलोमीटर प्रतिघंटा की रफ्तार से ट्रेन चलाकर ट्रायल किया गया है। उम्मीद है कि जल्द ही इन दोनों रेलखंडों पर 100 किलोमीटर प्रतिघंटा की रफ्तार से रेल का परिचालन होगा। इसके साथ ही कोडरमा से सीधे गिरिडीह रेललाइन के जरिए मधुपुर मेन लाइन से भी यह रूट जुड़ जाएगा और जीसी खंड के साथ यह तीसरा वैकल्पिक मार्ग होगा। यात्री मधुपुर के रास्ते आसनसोल, हावड़ा तथा पटना के रास्ते मुगलसराय भी जा सकते हैं। वर्तमान में कोडरमा स्टेशन के बाद कोडरमा टाउन, महेशपुर, नवलाही, नावाडीह, राकेशबाग, राजधनवार, कोआर तक परिचालन हो रहा है। रविवार को कोडरमा-कोआर रेलखंड के लिए 86 किलोमीटर की दूरी तय की गई। ट्रायल कोडरमा स्टेशन से सुबह 9.42 बजे से शुरू जो 10.52 बजे कोआर पहुंचकर संपन्न हुआ जो 1.10 घंटे में ट्रेन पहुंची। जबकि वापसी में 12.57 बजे खुली और 13.57 पर लगभग एक घंटे में कोडरमा पहुंच गई। वर्तमान में पारंपरिक रैक कोडरमा पहुंचने में 2.15 घंटे लगता है। वहीं कोडरमा-हजारीबाग टाउन रेलखंड में भी स्पीड ट्रायल किया गया। दिन 4.02 बजे कोडरमा से हजारीबाग टाउन के लिए ट्रेन रवाना हुई जो 5.30 बजे हजारीबाग टाउन स्टेशन पहुंची तथा वापसी के लिए 6.30 बजे खुली। रेलवे अधिकारियों ने बताया कि हजारीबाग टाउन पहुंचने में भी लगभग एक घंटा लगेगा, लेकिन ट्रायल में कुछ देर के लिए ट्रेन रोकना पड़ा। ट्रायल में धनबाद रेल मंडल के मंडल अभियंता भूमि टी सोनेवाल, वरीय अनुभाग अभियंता रेलपथ सुनील कुमार, सहायक अभियंता ओपी ¨सह, कोआर रेलखंड के चालक प्रशांत कुमार, उपचालक सुरेश कुमार, हजारीबाग टाउन रेलखंड के चालक विनोद यादव, उपचालक राजू कुमार, ट्रैक मेंटेनर सेफ्टी धीरेंद्र कुमार, सुमन सौरभ, आलोक रंजन, ¨टकू रवानी आदि उपस्थित थे।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021