Move to Jagran APP

चांडिल में 2.4 किलो गांजे के साथ महिला समेत 2 आरोपी गिरफ्तार, पति देता था तस्करी करने की ट्रेनिंग

चांडिल में कपाली ओपी की पुलिस ने गुरुवार की सुबह चार बजे एक महिला और एक युवक को 2.4 किलोग्राम गांजे के साथ गिरफ्तार किया। वरीय पदाधिकारी के निर्देश पर अलबेला गार्डेन पुलिया के समीप एंटी क्राइम चेकिंग चल रही थी।

By Fani Bhushan TuduEdited By: Yashodhan SharmaPublished: Fri, 26 May 2023 12:29 AM (IST)Updated: Fri, 26 May 2023 12:29 AM (IST)
चांडिल में 2.4 किलो गांजे के साथ महिला समेत 2 आरोपी गिरफ्तार, पति देता था तस्करी करने की ट्रेनिंग

संवाद सूत्र, चांडिल। झारखंड के चांडिल में कपाली ओपी की पुलिस ने गुरुवार की सुबह चार बजे एक महिला और एक युवक को 2.4 किलोग्राम गांजे के साथ गिरफ्तार किया। वरीय पदाधिकारी के निर्देश पर अलबेला गार्डेन पुलिया के समीप एंटी क्राइम चेकिंग चल रही थी।

इस दौरान गांजे की तस्करी के मामले में स्कूटी पर सवार सिमरन निगार नामक महिला व मो. परवेज को 2.4 किलोग्राम गांजा के साथ पकड़ा गया।

आरोपितों में शामिल महिला सिमरन निगार कपाली ओपी क्षेत्र अंतर्गत डांगोडीह रोड नंबर-1 स्थित शंकर स्टोर के पास रहती है।

इधर आरोपी युवक मो. परवेज (38) जमशेदपुर के जुगसलाई स्थित पुराना बस्ती का निवासी है। पुलिस ने आरोपितों को न्यायिक हिरासत में भेज दिया।

पति NDPS एक्ट में है जेल में बंद

चांडिल थाने में मीडिया को जानकारी देते हुए पुलिस निरीक्षक पास्कल टोप्पो ने बताया कि एंटी क्राइम चेकिंग के दौरान स्कूटी भी जब्त की गई। उन्होंने बताया कि आरोपित महिला सिमरन निगार का पति राजू अप्पा एनडीपीएस एक्ट में घाघीडीह जेल में बंद है।

पति के जेल जाने के बाद नशे के कारोबार को उसकी पत्नी संभाल रही थी। पूछताछ के दौरान सिमरन ने पुलिस को नशे के कारोबार से संबंधित कई जानकारी दी हैं।

पुलिस निरीक्षक ने बताया कि दोनों आरोपित गांजा कहां से ला रहे थे और कहां ले जाना था, पुलिस इसकी जांच कर रही है।

उन्होंने बताया कि स्कूटी पर मो. परवेज व सिमरन निगार का एक छोटा बच्चा भी सवार था। टीम में कपाली ओपी प्रभारी सुनील कुमार भोक्ता, थाना प्रभारी अजीत कुमार, पुलिस अवर निरीक्षक सुनील कुमार भोक्ता, सहायक अवर निरीक्षक रामनाथ बानरा, शांति मिंज, अमर कुमार यादव, हवलदार बासुदेव प्रसाद व आरक्षी मोहन प्रसाद यादव शामिल थे।

महिला को पति देता था ट्रेनिंग

गांजे के साथ गिरफ्तार सिमरन निगार जमशेदपुर के जुगसलाई की रहने वाली है। महिला का पति राजू अप्पा गांजे की तस्करी करता था।

पुलिस से बचने के लिए वह अपनी पत्नी से गांजे की तस्करी कराता था। गांजा तस्करी में मुनाफा होने पर पति-पत्नी गांजे की तस्करी में लग गए।

पुलिस ने पूर्व में राजू अप्पा को गांजे के साथ गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था। अब पुलिस की नजर उसकी पत्नी पर थी। इस कारण उसने जुगसलाई स्थित निवास छोड़ दिया था और कपाली के डांगरडीह में किराये के मकान में रह रही थी।

आरोप है कि उसने यहीं से गांजे की तस्करी का काम शुरू कर दिया था। आरोपित महिला ने कपाली क्षेत्र को गांजे की तस्करी के लिए सुरक्षित जोन बना लिया था। कपाली के आसपास के क्षेत्रों में ही वह गांजा सप्लाई करती थी।


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.