Move to Jagran APP

एक घंटे तक रणक्षेत्र बना रहा खपरियावां का बन्हें

संवाद सहयोगी हजारीबाग शांति का पैगाम देने वाला खपरियावा का बन्हें नृसिंह मंदिर रोड बकर

By JagranEdited By: Published: Sat, 01 Aug 2020 10:55 PM (IST)Updated: Sun, 02 Aug 2020 06:18 AM (IST)
एक घंटे तक रणक्षेत्र बना रहा खपरियावां का बन्हें
एक घंटे तक रणक्षेत्र बना रहा खपरियावां का बन्हें

संवाद सहयोगी, हजारीबाग : शांति का पैगाम देने वाला खपरियावा का बन्हें नृसिंह मंदिर रोड बकरीद के दिन गोकुशी के बाद बढ़े विवाद में एक घंटे तक रणक्षेत्र बना रहा। दोनों ओर से पथराव होता रहा और कम संख्या बल होने के कारण कटकमदाग पुलिस पुलिस उदपद्रवियों पर हावी नहीं हो सकी। हालांकि बीच बचाव के बीच कटकमदाग के थाना प्रभारी धनंजय कुमार सिंह भी चोटिल गए। करीब 11 बजे एसडीपीओ कमल किशोर के साथ पहुंचे रैफ की टीम ने मोर्चा संभाला और लोगों को लाठी चलाकर खदेड़ा। स्थिति संभालने के लिए रैफ को आश्रू गैसे के गोले छोड़ने पड़े। मामला शांत होते हीं बन्हें व नृसिंह मंदिर परिक्षेत्र को पुलिसिया सुरक्षा घेरे में ले लिया गया। नगर निगम की टीम ने मंदिर व उसके आसपास फेंके गए पत्थर को हटाकर साफ कर दिया। पथराव और सांप्रदायिक तनाव की सूचना पर पहुंचे प्रभारी उपायुक्त संदीप कुमार सिंह ने सख्त कार्रवाई का निर्देश देते हुए उप्रदवियों की पहचान कर कार्रवाई करने का निर्देश दिया है। घटना के संबंध में स्थानीय लोगों के अनुसार मुखिया पति के साथ बन्हें में नाली से खून बहता देख युवकों ने नृसिंह मंदिर के पास खड़ी पुलिस वाहन को इसकी सूचना दी। पुलिस के साथ ग्रामीण बनहा के उस घर पहुंचे जहां से खून निकल रहा था। पुलिस को देखकर उस घर के लोग फरार हो गए। परंतु घर में प्रतिबंधित मांस मिला जिसे पुलिस ने जब्त कर लिया। इस बाबत गोकुशी को लेकर कटकमदाग थाने में प्राथमिकी दर्ज करने की कवायद की जा रही थी।

loksabha election banner

-------------------------- सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल करने वालों पर होगी कार्रवाई : उपायुक्त

उपायुक्त संदीप सिंह ने कहा कि पथराव की घटना को लेकर सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल करने वालों पर कार्रवाई करने की बात कही है। कहा कि सोशल मीडिया पर अफवाह फैलाना एक संगीन जुर्म है। प्रशासन ऐसे सभी लोगों पर प्राथमिकी की तैयारी कर रही है। करीब एक घंटा तक उपायुक्त खपरियावां में रहे। --------------

लाठी लेकर दौड़ते रहे एसडीपीओ, एसडीएम देती रही चेतावनी :

पथराव की सूचना पर पहुंचे एसडीपीओ सदर लाठी लेकर दौड़ लगाते दिखाई दिए। उनके साथ जवान पत्थरों के बरसात के बीच दोनों पक्षों को शांत कराने में जुटे रहे। वहीं एसडीएम विधि व्यवस्था को लेकर सख्ती अपनाती दिखी। हंगामा कर रहे लोगों को चेतावनी देते हुए घर में जाने को कहा।

---------------- मंदिर के समीप खड़े एक दर्जन वाहन को किया क्षतिग्रस्त, एक को आग के हवाले

प्रतिबंधित मांस पकड़ने गए पलिस व ग्रामीणों पर बन्हें के सैकड़ों लोगों ने धावा बोल दिया। पुलिस के साथ ग्रामीण पथराव को लेकर भागने लगे। इस बीच पथराव करते हुए उपद्रवी मंदिर के निकट आ गए। मंदिर के समीप खड़े एक दर्जन वाहनों को क्षतिग्रस्त कर दिया। वहीं एक मोटरसाइकिल को आग के हवाले कर दिया। -----------

कोट

मामला नियंत्रण में है, दोनों पक्षों के साथ शांति समिति की बैठक कराने का प्रयास किया जा रहा है। उपद्रवियों की पहचान की कवायद की जा रही है। माहौल बिगाड़ने वालों पर सख्त कार्रवाई की जाएगी। पुलिस मामले पर नजर बनाए हुए हैं। कमल किशोर, एसडीपीओ, सदर


Jagran.com अब whatsapp चैनल पर भी उपलब्ध है। आज ही फॉलो करें और पाएं महत्वपूर्ण खबरेंWhatsApp चैनल से जुड़ें
This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.