Move to Jagran APP

मानव तस्करों के हाथ लगने बचीं एक दर्जन किशोरियां

मानव तस्करों के चंगुल में फंसने के बाद बस

By JagranEdited By: Fri, 03 Jun 2022 07:12 PM (IST)
मानव तस्करों के हाथ लगने बचीं एक दर्जन किशोरियां
मानव तस्करों के हाथ लगने बचीं एक दर्जन किशोरियां

मानव तस्करों के हाथ लगने बचीं एक दर्जन किशोरियां

जागरण संवाददाता, दुमका : मानव तस्करों के चंगुल में फंसने के बाद बस से बाहर जा रही एक दर्जन किशोरियां शुक्रवार को बाल बाल बच गई। चाइल्ड लाइन की टीम ने दुधानी बस स्टैंड के पास बस रोककर सभी किशोरियों को कब्जे में लिया। नगर थाना में सभी की उम्र जांच की गई। जांच के बाद दस बालिग को छोड़ दिया गया। वहीं दो किशोरी को बाल कल्याण समिति के सामने पेश किया जाएगा।

दरअसल दोपहर को जिले के विभिन्न थाना क्षेत्र की रहने वालीं एक दर्जन किशोरियां काम के सिलसिले में हरियाणा जाने के लिए बस से निकलीं। सभी को जसीडीह से ट्रेन से हरियाणा ले जाया जाना था। शाम करीब चार बजे चाइल्डलाइन के समन्वयक मधुसूदन सिंह को पता चला कि कुछ लोग किशोरियों को लेकर बाहर जा रहे हैं। उन्होंने नगर थाना की पुलिस के साथ मिलकर दुधानी में बस को रोका और सभी किशोरियों को नगर थाना लेकर आए। यहां पर सभी से उनका आधार कार्ड और मैट्रिक प्रमाण पत्र लेकर जांच की गई। जिसमें दस बालिग और दो किशोरियां निकलीं। समन्वयक ने बताया कि मानव तस्करी की सूचना पर बस को रोककर जांच की गई। जांच में जो दस लड़कियां बालिग निकली हैं, उन्हें घर जाने की इजाजत दी गई। वहीं दो किशोरियों को बाल कल्याण समिति के सामने पेश किया जाएगा। शनिवार को किशोरियों पर विचार किया जाएगा। बताया कि किशोरियों ने पूछताछ में बताया है कि एक युवक सभी को हरियाणा की एक कंपनी में काम कराने के लिए ले जा रहा था। उसी व्यक्ति ने ही सभी लोगों का टिकट कराया था। किशोरी उस युवक का नाम व पता नहीं जानती हैं। युवक की पहचान का प्रयास किया जा रहा है।