मुरलीपहाड़ी (जामताड़ा), जेएनएन। शरारती तत्वों की कारस्तानी के कारण मंगलवार को जामताड़ा में होली के रंग में भंग पड़ गया। एक समुदाय विशेष के लोगों ने होली के जुलूस पर हमला बोल दिया। इसके बाद दोनों तरफ से पत्थरबाजी हुई। आधा दर्जन लोग घायल हो गए। पुलिस ने तुरंत सख्ती दिखाते हुए स्थिति को नियंत्रित किया। हालांकि इस घटना को लेकर दोनों समुदायों के बीच तनाव व्याप्त है। 

जामताड़ा के नारायणपुर थाना क्षेत्र के कोरिडीह गांव में होली जुलूस के दौरान रात को दो समुदाय के लोगों में विवाद बढ़ गया। दोनों ओर से पथराव की घटना हुई। एसडीपीओ अरविंद उपाध्याय रात में ही पहुंचे। दोनों पक्षों को शांत कराया। इलाके में पुलिस की चौकसी बढ़ा दी गई है। पथराव की घटना से आहत जुलूस में शामिल लोगों ने लहरजोरी-  नारायणपुर सड़क को जाम कर दिया था। सड़क को जाम से मुक्त कराया गया। जामताड़ा कांग्रेस के विधायक इरफान अंसारी का क्षेत्र है। घटना की सूचना मिलने के बाद अंसारी के पिता पूर्व सांसद फुरकान अंसारी पहुंचे। उन्होंने दोनों समुदाय के लोगों से शांति और भाईचारे की अपील की। 

होली खेलते हुए लोग सड़क की तरफ से मंदिर आ रहे थे। होली जुलूस में ताशा बज रहा था। इसका एक समुदाय के लोगों ने विरोध किया। उन्होंने जुलूस पर पथराव कर दिया। जवाब में दूसरे समुदाय के लोगों ने भी पथराव किया। घटना के बाद जामताड़ा में तनाव की स्थिति है। पुलिस स्थिति पर नजर रखे हुए है। शरारती तत्वों पर कड़ी कार्रवाई करने की चेतावनी दी है। 

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप