Move to Jagran APP

Dhanbad Fire Accident: हाजरा अस्पताल अग्निकांड की जांच करने पहुंची फॉरेंसिक टीम, हॉस्पिटल परिसर किया सील

Dhanbad Fire Accident रांची से फॉरेंसिक टीम जांच के लिए हाजरा मेमोरियल हॉस्पिटल पहुंची है। फॉरेंसिक टीम ने अस्पताल परिसर सहित डॉक्टर दंपती के बेडरूम की भी जांच की है। टीम अस्पताल के कर्चमारियों से भी बारी-बारी से पूछताछ करेगी।

By Jagran NewsEdited By: Roma RaginiSun, 29 Jan 2023 12:20 PM (IST)
धनबाद के हाजरा अस्पताल पहुंची फॉरेंसिक टीम

जागरण संवाददाता धनबाद। हाजरा मेमोरियल हॉस्पिटल में आगजनी की घटना में डॉक्टर दंपती समेत पांच की मौत के मामले में रांची से फॉरेंसिक टीम जांच के लिए अस्पताल पहुंची है। फॉरेंसिक टीम ने कार्रवाही शुरू कर दी है। टीम के सदस्य पूरे अस्पताल परिसर और अगलगी होने वाले क्षेत्र की वीडियोग्राफी कर रहे हैं।

फॉरेंसिक टीम के सदस्य हर जगह से विभिन्न प्रकार के सैंपल एकत्रित कर रहे हैं। फॉरेंसिक टीम ने डॉक्टर दंपती के बेडरूम में भी जांच की है। यहां पर किस हालत में डॉक्टर दंपती और उनके रिश्तेदार की जान गई, इसकी पड़ताल शुरू की गई है।

आग लगने के कारणों की जांच

टीम इस दौरान आग लगने के कारणों की जांच कर रही है। आग अस्पताल और डॉक्टर के आवास के बीच के गलियारे में लगी थी। यहां स्टोर रूम और सीसीटीवी का सर्वर रूम था। बिजली का जंक्शन भी इसी स्थान पर था। इस जगह से सैंपल एकत्रित किया जा रहा है। जले हुए कपड़े, जले हुए कागज समेत अन्य चीजों के भी सैंपल लिए जा रहे हैं।

कर्मचारियों से की जाएगी पूछताछ

इसके साथ ही अस्पताल में काम करने वाले अन्य कर्मचारियों से भी पूछताछ शुरू कर दी गई। अस्पताल में ड्यूटी के दौरान जितने भी कर्मचारी सेवा दे रहे थे, सभी से बारी-बारी पूछताछ की जाएगी।

पूरे अस्पताल परिसर को किया गया सील

फॉरेंसिक टीम ने आते ही पूरे अस्पताल परिसर को सील कर दिया है। किसी भी बाहरी व्यक्ति को अस्पताल परिसर में जाने की अनुमति नहीं दी जा रही है। इसके साथ ही फॉरेंसिक टीम के अलावा स्थानीय पुलिस प्रशासन भी मौके पर पहुंची हुई। प्रशासनिक अधिकारियों की माने तो अब पूरी तरह से जांच होने के बाद ही कारणों और घटना की जानकारी मिल पाएगी।

बता दें कि आरसी हाजरा मेमोरियल अस्पताल के डॉक्टर विकास हाजरा और प्रेमा हाजरा सहित पांच लोगों की शनिवार रात आगजनी में मौत हो गई। इस हादसे में डॉक्टर दंपती के रिश्तेदार की भी मौत हुई है। डॉक्टर दंपती और उनके रिश्तेदार का अंतिम संस्कार रविवार को बस्ती कोल के श्मशाम घाट में किया जाएगा।

डॉक्टर दंपती के अंतिम दर्शन के लिए उनका शव अस्पताल परिसर में बने घर में रखा गया। परिजनों सहित पूरा धनबाद डॉक्टर दंपती को अंतिम विदाई देने के लिए उमड़ पड़ा। अस्पताल परिसर से एक साथ तीन अर्थियां निकली तो माहौल गमगमीन हो गया।