Move to Jagran APP

Modi Cabinet 3.0: मोदी के 'हैट्रिक मिनिस्टर' डॉ. जितेंद्र सिंह का जलवा बरकरार, मंत्रिमंडल में मिली ये बड़ी जिम्मेदारी

मोदी सरकार (Modi Government) ने आज कैबिनेट बैठक के बाद मंत्रालयों की जिम्मेदारी की वितरण कर दिया है। इसी के चलते जम्मू-कश्मीर की ऊधमपुर सीट से सांसद डॉ. जितेंद्र सिंह (dr Jitendra Singh) को रविवार को राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) की शपथ दिलवाई गई। इसके बाद मंत्रालयों को विस्तार करते हुए उन्हें अहम जिम्मेदारी दी गई है। ये ऊधमपुर सीट से लगातार तीन बार जीत हासिल कर चुके हैं।

By Deepak Saxena Edited By: Deepak Saxena Published: Mon, 10 Jun 2024 08:38 PM (IST)Updated: Mon, 10 Jun 2024 08:38 PM (IST)
मोदी के 'हैट्रिक मिनिस्टर' डॉ. जितेंद्र सिंह का जलवा बरकरार (फाइल फोटो)।

डिजिटल डेस्क, ऊधमपुर। नरेंद्र मोदी सरकार 3.0 में कैबिनेट बैठक के बाद मंत्रालयों का वितरण कर दिया गया है। इसमें जम्मू-कश्मीर की ऊधमपुर सीट से लगातार तीन बार जीत हासिल करने वाले सांसद डॉ. जितेंद्र सिंह को मोदी सरकार 3.0 में राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) के रूप में शपथ दिलवाई गई। इसके बाद आज कैबिनेट बैठक के बाद मंत्रालयों का वितरण कर दिया गया है।

मोदी कैबिनेट में मिली ये जिम्मेदारी

डॉ. जितेंद्र सिंह को मोदी कैबिनेट में विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्रालय के राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार), पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय के राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार), प्रधानमंत्री कार्यालय में राज्य मंत्री, कार्मिक, लोक शिकायत और पेंशन मंत्रालय में राज्य मंत्री, परमाणु ऊर्जा विभाग में राज्य मंत्री और अंतरिक्ष विभाग में राज्य मंत्री की जिम्मेदारी दी गई है।

ये भी पढ़ें: IIM जम्मू कर रहा है फैकल्टी और प्रशासनिक पदों पर भर्ती, ऑनलाइन कर सकते हैं आवेदन, आखिरी तारीख 26 जून

साल 2014 से लगातार जीत रहे ऊधमपुर सीट

ऊधमपुर सीट पर जीत की हैट्रिक लगाने वाले डॉ. जितेंद्र सिंह पहली बार साल 2014 में हुए 16वें लोकसभा चुनावों में निर्वाचित हुए। लोकसभा चुनाव में डॉ. जितेंद्र सिंह ने जम्मू-कश्मीर के पूर्व सीएम गुलाम नबी आजाद को कड़ी टक्कर दी थी। उन्हें 60 हजार से ज्यादा वोटों से जीत मिली थी। इसके बाद उन्होंने साल 2019 के चुनावों में भी अपने प्रतिद्वंदियों पर जीत हासिल की। जितेन्द्र सिंह को कुल 61.38 वोट मिले थे, जो कि राज्य में किसी उम्मीदवार की जीत का अब तक का सबसे बड़ा अंतर रहा।

एमबीबीएस डॉक्टर हैं डॉ. जितेंद्र सिंह

जितेंद्र सिंह ने चेन्नई के स्टेनली मेडिकल कॉलेज से एमबीबीएस की डिग्री ली है। उन्होंने डायबिटीज मेड इजी समेत आठ किताबें लिखी हैं। जो विश्व पुस्तक मेले की बेस्ट सेलर भी बनी।

ये भी पढ़ें: Omar Abdullah: 'आर्टिकल 370 हटाया, राम मंदिर बनाया फिर भी क्यों घट गईं सीटें', उमर अब्दुल्ला ने मोदी सरकार पर कसा तंज


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.