Move to Jagran APP

Jammu-Kashmir: ट्रेन से जल्द कर सकेंगे कश्मीर की वादियों का दीदार, बनिहाल-सुंबल तक शुरू होगा रेल परिचालन

Jammu-Kashmir जम्मू- कश्मीर को रेल नेटवर्क से पूरे देश से जोड़ने की तैयारियां तेजी से जारी हैं। बनिहाल से खड़ी और सुंबल तक अगले माह रेल परिचालन शुरू करने के लिए पहला ट्राली इंस्पेक्शन किया गया। कटड़ा-बनिहाल रेलखंड की कुल लंबाई 111 किलोमीटर है। आधे से ज्यादा पर रेलवे ट्रैक बिछाने का काम पूरा हो चुका है।

By Jagran NewsEdited By: Prince SharmaSat, 30 Sep 2023 06:45 AM (IST)
Jammu-Kashmir: ट्रेन से जल्द कर सकेंगे कश्मीर की वादियों का दीदार, बनिहाल-सुंबल तक शुरू होगा रेल परिचालन

अमित माही, ऊधमपुर। कश्मीर को रेल नेटवर्क से पूरे देश से जोड़ने की तैयारियां तेजी से जारी हैं। बनिहाल से खड़ी और सुंबल तक अगले माह रेल परिचालन शुरू करने के लिए पहला ट्राली इंस्पेक्शन किया गया।

मेंबर इंफ्रा रेलवे बोर्ड (एमआइआरबी) की निगरानी में हुए इंस्पेक्शन में फिरोजपुर डिवीजन के कई अधिकारी मौजूद थे। इसके अलावा रियासी के अंजी और चिनाब पर बन रहे पुल का भी निरीक्षण किया। सब कुछ ठीक रहा तो अक्टूबर में बनिहाल से सुंबल तक रेल परिचालन शुरू होने की उम्मीद है।

कटड़ा-बनिहाल रेलखंड की कुल लंबाई 111 किलोमीटर है। आधे से ज्यादा पर रेलवे ट्रैक बिछाने का काम पूरा हो चुका है। अक्टूबर में इस रेल खंड पर बनिहाल से सुंबल तक करीब 50 किलोमीटर हिस्से में रेल परिचालन शुरू करने के लिए काम चल रह है।

बनिहाल-खड़ी के बीच देश की सबसे लंबी रेल 8.6 किलोमीटर लंबी रेलवे सुरंग पर ट्राली रन इंस्पेक्शन हो चुका है। खड़ी और सुंबल में पब्लिक इंफारमेशन सिस्टम, सिग्नल सिस्टम को लगाकर उनको लगातार जांचा जा रहा है। साथ ही रेल परिचालन के लिए ऑपरेशनल से संबंधित तैयारियां की जा रही हैं। रेल कर्मचारियों की नियुक्तियां व तबादले होने शुरू हो गए हैं।

अधिकारी रेल से बनिहाल पहुंचे

युद्ध स्तर पर रेल परिचालन के लिए जारी तैयारियों के बीत बीते वीरवार दोपहर को मेबर इंफ्रा रेलवे बोर्ड (एमआइआरबी) आरएन सूनकर ने बनिहाल से सुंबर तक ट्राली इंस्पेक्शन किया। उनके साथ डीआरएम फिरोजपुर संजय साहू के अलावा फिरोजपुर डिवीजन के कई अधिकारियों के अलावा रेलवे और निर्माण एजेंसी के इंजीनियर भी थे।

जानकारी के मुताबिक श्रीनगर में रेलवे की एक कॉन्फ्रेंस थी जिसमें हिस्सा लेने के बाद उक्त अधिकारी रेल से बनिहाल पहुंचे। विशेष ट्राली पर सवार होकर उन्होंने सुंबल तक इंस्पेक्शन की।

यह भी पढ़ें- जम्मू-कश्मीर में 370 हटने के बाद भी प्रदेश में नहीं दिख रहा बदलाव, शिवसेना बोली वादों को नहीं किया पूरा

एमआइआरबी ने रेलवे इंजीनियरों व अधिकारियों से बनिहाल से खड़ी और सुंबर स्टेशन तक विकसित इंफ्रा से संबंधित जानकारी प्राप्त की। उन्होंने अधिकारियों को जरूरी दिशा निर्देश दिए। एमआइआरबी व अन्य अधिकारी सड़क मार्ग से अंजी (रियासी) की तरफ रवाना हो गए। जहां उन्होंने अंजी और चिनाब पर बन रहे पुल का भी निरीक्षण किया। वहां से सड़क मार्ग से एमआइआरबी जम्मू पहुंचे।

बनिहाल से सुंबल तक यह पहला ट्राली इंस्पेक्शन था। इससे पहले भी ट्राली इंस्पेक्शन हुए हैं, मगर वह बनिहाल से खड़ी और खड़ी से सुंबल तक अलग अलग किए गए थे।