श्रीनगर, जेएनएन। सुरक्षा बलों ने अपने जांबाज कर्नल आशुतोष शर्मा और मेजर अनुज सूद सहित पांच सैन्यकर्मियों की शहादत का बदला ले लिया है। कई दिनों से आतंकियों पर दबाव बनाए सुरक्षा बलों ने बुधवार को दो मुठभेड़ों में चार कुख्यात दहशतगर्दो को मार गिराया। सबसे बड़ा झटका हिजबुल मुजाहिदीन के शीर्ष कमांडर रियाज नाइकू को ढेर कर दिया। बीते आठ साल से सिरदर्द बने नाइकू को बेगीपोरा (पुलवामा) में उसके घर से चंद कदम की दूरी पर साथी के साथ मारा गया। डबल-ए श्रेणी में सूचीबद्ध नाइकू पर 12 लाख का इनाम था। उसे बचाने के लिए कुछ लोगों ने जवानों पर पथराव भी किया। एहतियातन प्रशासन ने पूरी वादी में मोबाइल इंटरनेट सेवा को बंद करने के साथ सुरक्षाबलों के वाहनों की विशेषकर भीतरी इलाकों में आवाजाही को पूरी तरह बंद कर दिया है। दूसरी मुठभेड़ पुलवामा के ही शारशाली इलाके में हुई, जिसमें दो अन्य आतंकी मारे गए। हालांकि, इससे पहले दोनों मुठभेड़ों में छह आंतकियों के मारे जाने की खबर आ रही थी, लेकिन आधिकारिक बयान में सिर्फ 4 आतंकियों के ढेर होने की सूचना दी गई है। केंद्रीय गृह मंत्रालय ने राज्य के डीजीपी दिलबाग सिंह से फोन पर हालात की समीक्षा की है। डीजीपी ने मीडिया से कहा कि ऑपरेशन बहुत कामयाब रहा है।

बेगीपोरा में अपने चाचा के घर मारे गए रियाज नाइकू पर 12 लाख रुपये का इनाम था। आठ साल से सुरक्षा एजेंसियां रियाज नाइकू को तलाश रहीं थीं। अवंतीपोरा पुलिस स्टेशन में उसके खिलाफ दस के करीब आपराधिक मामले दर्ज थे। एक ही दिन में हिज्ब कमांडर समेत छह आतंकवादियों को मारकर सुरक्षाबलों ने पिछले तीन दिनों में मुठभेड़ में शहीद होने वाले कर्नल व मेजर सहित विभिन्न सुरक्षाबलों के 8 जवानों की शहादत का भी बदला ले लिया है। उधर घाटी में लगातार बढ़ रही आतंकी घटनाओं को देखते हुए, फिलहाल मोबाइल इंटरनेट सेवा भी बंद कर दी गई है और पूरी घाटी में सुरक्षा व्यवस्था को भी कड़ा कर दिया है। सुरक्षाकर्मियों की तैनाती को भी बढ़ा दिया गया है। 

हिजबुल मुजाहिदीन कमांडर रियाज नाइकू का मारा जाना आतंकी संगठन के लिए बड़ा झटका है। नाइकू गत मंगलवार रात को अपने पैतृक गांव बेगीपोरा आया हुआ था, सुरक्षाबलों ने सूचना मिलने पर उसे घेर लिया। उसके साथ 2 से 3 और आतंकवादी भी थे। उन सभी के मारे जाने की सूचना है परंतु अभी तक पुलिस व सुरक्षाबलों ने न तो इसकी पुष्टि की है और न ही मुठभेड़ में मारे गए दो अन्य आतंकियों की पहचान बताइ गइ है। अगर स्थानीय सूत्रों की मानें तो मारे गए अन्य आतंकवादियों में हिज्ब डिप्टी कमांडर सैफुल्ला और जुनेद सहराइ का नाम सामने आ रहा है। वहीं, अवंतीपोरा से 12 किलोमीटर दूर शारशाली में चल रही दूसरी मुठभेड़ में भी सुरक्षाबलों ने तीन आतंकवादियों को मार गिराया है।

पुलिस को अनुसार नाइकू की मां का स्वास्थ्य पिछले कई दिनों से खराब चल रहा है। वह अपनी मां से मिलने के लिए ही मंगलवार को अपने गांव पेगीपोरा पहुंचा था। उसके साथ दो से तीन और आतंकी भी थे। विश्वसनीय सूत्रों ने मंगलवार रात को ही पुलिस को यह जानकारी दे दी। सूचना मिलते ही पुलिस की एसओजी, सेना की 55 आरआर ओर सीआरपीएफ 185 बटालियन के जवानों ने गांव पेगीपोरा की घेराबंदी कर ली थी। सुबह नाइकू को ढूंढने के लिए जब घर-घर की तलाशी लेना शुरू किया गया तो अपने आपको घिरता देख आतंकवादियों ने सुरक्षाबलों पर गोलीबारी शुरू कर दी।

वहीं अवंतीपोरा में जारी इस मुठभेड़ में हिज्ब कमांडर के मारे जाने की सूचना घाटी में फैलते ही सोशल साइट पर इसको लेकर दुष्प्रचार शुरू हो गया है। कश्मीर घाटी में सक्रिय शरारती और राष्ट्र विरोधी तत्व इंटरनेट की विभिन्न सोशल मीडिया का इस्तेमाल कर लोगों को भड़काते हुए उन्हें मुठभेड़ स्थलों पर जमा करने का प्रयास कर रहे हैं। यह देख प्रशासन ने एहतियात के तौर पर घाटी में इंटरनेट मोबाइल सेवा निलंबित कर दी है।

वहीं जम्मू-कश्मीर पुलिस का कहना है कि कुछ न्यूज एजेंसियां व मीडिया रिपोर्ट में दावा किया जा रहा है कि मारे गए आतंकियों में एक हिज्ब का टाॅप कमांडर रियाज नाइकू भी है, लेकिन अभी तक इसकी अधिकारिक पुष्टि नहीं हो पाई है। ऐसे में यह गलत सूचना घाटी में जारी शांति के वातावरण को नुकसान पहुंचा सकती है। सोशल मीडिया पर चल रहे इस दुष्प्रचार पर लगाम लगाने के लिए घाटी में मोबाइल इंटरनेट सेवा को फिलहाल निलंबित करने का निर्णय लिया गया है।

इसके अलावा जिला पुलवामा के शरशाली खिरयू में भी सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच हुइ मुठभेड में अभी तक तीन आतंकवादियों को मार गिराया गया है। सुरक्षाबलों का कहना है कि शुरुआत में जब उन्होंने एक आतंकी को मारा था तब अन्य आतंकवादी वहां से भाग निकले। परंतु घेराबंदी किए जाने के चलते वे गांव से बाहर नहीं जा सके। अभी तक सुरक्षाबलों ने यहां तीन आतंकवादियों को मार गिराया है और उनके शवों के साथ हथियार व गोलाबारूद भी बरामद किया है। और आतंकवादियों की मौजूदगी की आशंका के चलते अब सुरक्षाबलों ने इलाके में तलाशी अभियान चलाया हुआ है।

जम्मू कश्मीर में एक बार फिर सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच एनकाउंटर शुरू हो गए हैं। प्राप्त जानकारी के अनुसार, पहला एनकाउंटर कल देर रात पुलवामा के शरशाली खिरयू क्षेत्र में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच एनकाउंटर शुरू हो गया। खबर है कि सुरक्षाबलों ने यहां दो आतंकवादियों को ढेर कर दिया है।​ सुरक्षाबलों को 2 से 3 आतंकियों के यहां छिपे होने की खबर मिली थी। 

यह भी पढ़ें:

Riyaz Naikoo Killed: अपने गांव बेगीपोरा में बीमार मां से मिलने आया था रियाज नाइकू

Riyaz Naikoo: बुरहान वानी व मूसा की बगावत के बाद मिली कमान, आतंकी बुलाते थे- 'मास्टर जी'

Riyaz Naikoo: कश्मीर घाटी में पिछले चार सालों में मारे गए ये 12 टॉप मोस्टवांटेड आतंकवादी!

Riyaz Naikoo की मौत से हिजबुल को बड़ा झटका, संगठन की कमर टूटी, जानें- क्या होगा इसका असर

Riyaz Naikoo Killed: अब भी सुरक्षाबलों की हिटलिस्ट में हैं कश्मीर के 12 मोस्ट वांटेड आतंकी

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस