Move to Jagran APP

Kathua Encounter: जम्मू कश्मीर हाईवे के पास दो मोर्टार शेल मिलने से मचा हडकंप, मौके पर पहुंचा बम निरोधक दस्ता

जम्मू-कश्मीर में बीते दिनों हुए आतंकी हमले के बाद सुरक्षा बल एक्शन मोड में है। मंगलवार को सुबह बान टोल प्लाजा के पास एक खाई में सुरक्षा बलों को दो मोर्टार शेल मिला। सोमवार को कठुआ (Kathua Encounter) में हुए आतंकी हमले में सेना के पांच जवान बलिदान हो गए थे। जिसके बाद सेना सुबह से सर्च ऑपरेशन चला रही है।

By Agency Edited By: Rajiv Mishra Tue, 09 Jul 2024 02:29 PM (IST)
नगरोटा के बन टोल प्लाजा के पास मिले दो मोर्टार शेल

पीटीआई, जम्मू। जम्मू-श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग पर नगरोटा के बन टोल प्लाजा के पास सुरक्षा बलों को दो पुराने मोर्टार शेल मिले। अधिकारियों ने बताया कि मंगलवार को सुबह संयुक्त गश्त के दौरान सुरक्षा बलों ने एक खाई में मोर्टार शेल छोड़े हुए देखे।

इसकी जानकारी मिलते ही बम निरोधक दस्ते के विशेषज्ञ तुरंत घटनास्थल पर पहुंचे और दोपहर के आसपास दोनों विस्फोटक उपकरणों को सुरक्षित रूप से निष्क्रिय कर दिया गया।

सेना चला रही है सर्च ऑपरेशन

कठुआ जिले के माछेदी इलाके में आतंकियों ने सेना के काफिले पर हमला किया था, जिसमें पांच जवानों की जान चली गई। मंगलवार को सुबह माछेदी इलाके में सुरक्षा बलों ने सर्च ऑपरेशन चलाया। वहीं उधमपुर में जम्मू-श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग पर सुरक्षा कड़ी कर दी गई।

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने जताया दुख

देश के रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कठुआ आतंकी हमले पर दुख जताया है। उन्होंने सोशल मीडिया (एक्स) पर पोस्ट करके लिखा कि आतंकवादी हमले में हमारे पांच बहादुर भारतीय सेना के जवानों की मौत से बहुत दुखी हूं।

उन्होंने कहा कि शोक संतप्त परिवारों के प्रति मेरी गहरी संवेदनाएं हैं। राष्ट्र इस कठिन समय में उनके साथ मजबूती से खड़ा है। मैं इस नृशंस आतंकवादी हमले में घायल हुए लोगों के शीघ्र स्वस्थ होने की प्रार्थना करता हूं।

यह भी पढ़ें- Kathua Encounter: एयरलिफ्ट कर बिलावर अस्पताल लाए गए बलिदानियों के शव, जवानों का हुआ पोस्टमार्टम

कश्मीर टाइगर्स ने ली हमले की जिम्मेदारी

इस हमले की जिम्मेदारी जैश-ए-मोहम्मद के मुखौटा संगठन कश्मीर टाइगर्स ने ली। सोमवार दोपहर बाद करीब साढ़े तीन बजे सेना के दो वाहन क्षेत्र में नियमित गश्त पर थे। जैसे ही सेना के जवान अपनी वाहन वहां से गुजरे आतंकियों ने हमला कर दिया।

यह भी पढ़ें- Kathua Encounter: 'आतंकवाद बड़ी समस्या... दूर नहीं जा सकते', पांच जवानों के बलिदान और हमले पर क्या बोले उमर अब्दुल्ला?