Move to Jagran APP

Himachal News: मोदी कैबिनेट में दूसरी बार स्वास्थ्य मंत्री बने जेपी नड्डा, हिमाचल को मिल सकता है पहला ट्रामा सेंटर

मोदी सरकार में जगत प्रकाश नड्डा के स्वास्थ्य मंत्री बनने से हिमाचल प्रदेश को उसका पहला ट्रामा सेंटर मिलने की उम्मीद है। अपने पहले कार्यकाल में जेपी नड्डा ने हिमाचल प्रदेश को एम्स दिया था। नड्डा ने हर जिले में ट्रामा सेंटर बनाने का फैसला लिया था लेकिन यह प्रोजेक्ट अभी तक अधर में लटका है। आइजीएमसी शिमला में न्यू ओपीडी में अलग से ट्रामा सेंटर बनाने का प्रस्ताव है।

By Jagran News Edited By: Rajiv Mishra Published: Tue, 11 Jun 2024 09:14 AM (IST)Updated: Tue, 11 Jun 2024 09:14 AM (IST)
जेपी नड्डा के स्वास्थ्य मंत्री बनने से हिमाचल में ट्रामा सेंटर बनने की उम्मीद

जागरण संवाददाता, शिमला। केंद्र में स्वास्थ्य मंत्री रहते हिमाचल को अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) दिलाने वाले जगत प्रकाश नड्डा दूसरी बार केंद्र में स्वास्थ्य मंत्री बने हैं। अब हिमाचल को उनसे फिर कई उम्मीदें हैं।

पांच वर्ष में प्रदेश के अस्पतालों में कई ढांचागत बदलाव दिख सकते हैं। अपने पहले कार्यकाल में नड्डा ने हिमाचल को एम्स दिया था। अब यह बिलासपुर में बनकर तैयार है और क्रियाशील हो गया है।

हिमाचल प्रदेश को मिल सकता है पहला ट्रामा सेंटर

नड्डा ने हर जिले में एक ट्रामा सेंटर बनाने का फैसला किया था। यह प्रोजेक्ट अभी तक अधर में लटका है। इंदिरा गांधी मेडिकल कालेज एवं अस्पताल (आइजीएमसी) शिमला में न्यू ओपीडी में अलग से ट्रामा सेंटर बनाने का प्रस्ताव है, लेकिन अब तक यह शुरू नहीं हो पाया है।

अब उम्मीद है कि हिमाचल का पहला ट्रामा सेंटर शिमला में शुरू होगा और इसके बाद हर जिला में ट्रामा सेंटर शुरू होंगे। एम्स बिलासपुर में देश के बड़े डाक्टर आते हैं तो हिमाचल ही नहीं बल्कि पड़ोसी राज्यों को भी स्वास्थ्य के क्षेत्र में बड़ा लाभ मिल सकता है।

एम्स में आधुनिक मशीनों की कमी से परेशान हैं लोग

एम्स शुरू हो गया है लेकिन अब भी गंभीर बीमारियों के मरीजों को प्रदेश से बाहर जाना पड़ता है। हिमाचल के अस्पतालों में आधुनिक मशीनों की कमी के कारण मरीजों को बाहर से टेस्ट करवाने पड़ते हैं। कई टेस्ट करवाने के लिए अस्पताल में कई माह बाद की तिथि मिलती है।

ऐसे में मरीजों को परेशानियों से दो चार होना पड़ता है। जगत प्रकाश नड्डा के दूसरी बार केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री बनने से प्रदेश के अस्पतालों में आधुनिक मशीनें आने की उम्मीद बढ़ गई है।

यह भी पढ़ें-  Modi Cabinet 3.0: मोदी सरकार में जेपी नड्डा को मिला ये अहम मंत्रालय, जानिए कौन सा पद संभालेंगे पूर्व BJP अध्यक्ष

2014 से 2019 तक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री रहे हैं नड्डा

जगत प्रकाश नड्डा नौ नवंबर, 2014 से 24 मई, 2019 तक केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री रहे हैं। जून 2019 में उन्हें भाजपा का राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष व जनवरी 2020 में राष्ट्रीय अध्यक्ष बनाया गया था।

बिलासपुर के रहने वाले नड्डा का जन्म दो दिसंबर, 1960 को बिहार की राजधानी पटना में हुआ। हिमाचल प्रदेश विश्वविद्यालय शिमला से कानून की पढ़ाई की। 1993 में बिलासपुर से पहली बार विधायक बने थे।

यह भी पढ़ें- Ration Card In Himachal: नहीं बना राशन कार्ड तो ना लें टेंशन, इस तरीके को अपनाकर फटाफट कर दें आवेदन


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.