धर्मशाला, जागरण संवाददाता। Kangra Lockdown, जिला कांगड़ा में सरकार लॉकडाउन जैसी सख्ती बरतने का फैसला ले सकती है। कोरोना के बढ़ते मामले अौर हो रही मौतें लॉकडाउन का कारण बन सकते हैं। लॉकडाउन जैसी बंदिशें लगाने का फैसला अाज मंत्रिमंडल की होने वाली बैठक में हो सकता है। रात्रि कर्फ्यू जैसी बंदिशें पहले से चल रही हैं। वीकेंड बंदिश के चलते जिला कांगड़ा में हर शनिवार व रविवार को बाजार बंद रह रहे हैं। इसी तरह से लोगों के कम व न निकलने के कारण निजी बसें भी इन दो दिनों में बंद रहती हैं।

यह भी पढ़ें:

Himachal Pradesh Lockdown: कैबिनेट से पहले सर्वदलीय बैठक शुरू, हिमाचल सरकार लगा सकती है लॉकडाउन

मंगलवार को कोरोना संक्रमण के 877 मामले सामने अाए, जबकि 15 मरीजों की मौत हुई। हर दिन यह अांकड़ा लगातार बढ़ रहा है। कोरोना संक्रमित लोगों की संख्या में मार्च माह के दूसरे पखवाड़े से वृद्धि होने शुरू हुई थी। जिसने अप्रैल में विकराल रूप धारण कर लिया। अब मई तक पहुंचते पहुंचते प्रतिदिन संक्रमित अाने वाले लोगों की संख्या बढ़ गई है। वहीं मृत्यु दर में भी वृद्धि हुई है। एेसे में नई बंदिशें भी सरकार ने शुरू की हैं। जिला कांगड़ा में मौजूदा समय में सबसे ज्यादा एक्टिव केस हैं, ऐसे में सरकार यहां सख्त बंदिशें लगा सकती है।

यह भी पढ़ें: हिमाचल में दिल्ली से दो गुणा से भी अधिक हुई एक्टिव मामलों की प्रतिशतता, नए मामलों में 25 गुणा व मौत में 17 गुणा की वृद्धि

यह भी पढ़ें: हिमाचल प्रदेश विश्वविद्यालय HAS सहित NET और SET की कोचिंग देगा, प्रतियोगी परीक्षा के लिए मिलेगी कोचिंग

यह भी पढ़ें: हिमाचल प्रदेश में कोरोना संक्रमण के मामले बढ़ने के बावजूद रिकवरी रेट 78 फीसद, देखिए आंकड़े

यह भी पढ़ें: Himachal Covid Cases Update: कोरोना से रिकॉर्ड 48 मरीजों की मौत, 3824 नए मामले

 

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप