Move to Jagran APP

Himachal: असन्तुष्टों को मनाने के लिए खुद फील्ड में उतरे पीएम मोदी

Kripal Parmar रिवाज बदलने के लिए भाजपा हरसंभव प्रयास कर रही है। भाजपा के बड़े नेता प्रचार में जुटे हैं। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी भी इसके लिए मेहनत कर रहे हैं। असंतुष्टों को मनाने के लिए भी प्रधानमंत्री को खुद फील्ड में उतरना पड़ रहा है।

By Jagran NewsEdited By: Virender KumarPublished: Sat, 05 Nov 2022 10:27 PM (IST)Updated: Sat, 05 Nov 2022 10:27 PM (IST)
Himachal: इंटरनेट मीडिया पर पीएम मोदी और कृपाल परमार की बातचीत का वीडियो वायरल हो रहा है। Source: Video Grab

धर्मशाला, जागरण संवाददाता। Kripal Parmar, रिवाज बदलने के लिए भाजपा हरसंभव प्रयास कर रही है। भाजपा के बड़े नेता प्रचार में जुटे हैं। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी भी इसके लिए मेहनत कर रहे हैं। असंतुष्टों को मनाने के लिए भी प्रधानमंत्री को खुद फील्ड में उतरना पड़ रहा है। मोदी असंतुष्ट नेताओं को फोन भी कर रहे हैं। शनिवार को ऐसा ही एक वीडियो इंटरनेट मीडिया पर भी प्रसारित होता रहा। इसमें प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी कांगड़ा जिला के फतेहपुर विधानसभा क्षेत्र से भाजपा टिकट न मिलने से असंतुष्ट कृपाल परमार को फोन कर चुनाव मैदान से हटने को कह रहे हैं।

यह कहा पीएम ने

प्रधानमंत्री उन्हें कह रहे हैं कि आप पर मेरा अधिकार है और मैं आपको इसके लिए कह रहा हूं। इसके जवाब में कृपाल परमार कहते हैं कि आपका आदेश मुझे भगवान का आदेश है। इसमें परमार ने कहा कि भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा मुझे 15 साल से जलील कर रहे हैं। इस पर मोदी ने कहा कि इसमें पार्टी अध्यक्ष का कोई भूमिका नहीं है। मैं कुछ नहीं सुनूंगा- आपकी जिंदगी में मेरी कोई जगह है तो आप चुनाव से हट जाओ। एक मिनट तीन सेकंड के इस वीडियो में परमार और मोदी से वार्तालाप के अंत में परमार कहते हैं कि यह अगर दो दिन पहले हो जाता तो बेहतर रहता।

भाजपा ने रणवीर निक्का को बनाया है फतेहपुर से प्रत्याशी

फतेहपुर से वनमंत्री राकेश पठानिया भाजपा प्रत्याशी हैं। वर्तमान में पठानिया नूरपुर से विधायक हैं। नूरपुर से इस बार भाजपा ने रणवीर निक्का को प्रत्याशी बनाया है। फतेहपुर से टिकट न मिलने पर पूर्व राज्यसभा सदस्य कृपाल परमार निर्दलीय मैदान में उतरे हैं। मोदी और परमार का संबंध उस समय से जब वह हिमाचल के प्रभारी हुआ करते थे, उस दौरान कृपाल परमार राज्यसभा सदस्य थे।

मोदी ने खुद संभाला है मोर्चा

गौर रहे कि प्रदेश की कई सीटों पर पार्टी के असंतुष्ट नेता भाजपा प्रत्याशियों के लिए चुनौती बने हुए हैं। पिछले दिनों जेपी नड्डा ने धर्मशाला में बैठक के दौरान पार्टी के असंतुष्ट नेताओं को मनाने का निर्देश दिया था। प्रधानमंत्री मोदी लंबे समय तक हिमाचल के प्रभारी रहे हैं, लिहाजा कई नेताओं से व्यक्तिगत संबंध होने के मोदी खुद उन्हें फोन करके मनाने का प्रयास कर रहे हैं।

यह भी पढ़ें : PM Modi Himachal Rally: खुद को कट्टर ईमानदार बताने वाले सबसे बड़े भ्रष्टाचारी, PM माेदी की रैली की मुख्य बातें

यह भी पढ़ें : Video: हिमाचल में रैली से पहले पीएम मोदी ने डेरा ब्यास में भरी हाजिरी, जानिए क्या है चुनाव कनेक्शन


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.