सोनीपत, जागरण संवाददाता। पबजी गेम की आईडी को लेकर धोखाधड़ी का नया मामला सामने आया है जहां एक शख्स के साथ साइबर ठगों ने 88000 रुपये की ठगी की है। इस मामले में साइबर टीम ने तुरंत कार्रवाई करते हुए 2 आरोपितों को गिरफ्तार किया है। साथ ही आरोपितों के पास से दो मोबाइल फोन और दो सिम कार्ड भी रिकवर किए गए है। 

क्या था पूरा मामला ?

दरअसल पबजी के शौकीन मयंक भारती को यूट्यूब पर एक विज्ञापन आया जिसमें कहा गया था कि पबजी आईडी खरीदने पर 30 प्रतिशत छूट मिल रही है। मयंक ने विज्ञापन पर क्लीक किया तो एक अन्य वैबसाइट खुली जहां उनसे मोबाइल नंबर मांगा गया। इसके बाद उन्हें किसी का कॉल आया और उनके खाते से एक के बाद एक कई ट्रांजेक्शन हुए जिसमें कुल 88 हजार रुपये सायबर ठगों ने उड़ा लिए।

पहले भी ठगी कर चुके हैं आरोपित 

इस मामले को लेकर साइबर सेल की टीम ने बताया कि जिस नंबर से मयंक को कॉल आया था उसकी जांच की गई। इस जांच में पता चला की यह नबंर निजामपुर माजरा गांव के निवासी बंटी का है। आरोपित बंटी के बैंक अकाउंट जांच की गई तब पता चला की बंटी ने पहले भी कई लोगों से ठगी कर चुका है। जांच में यह भी सामने आया की आरोपित बंटी अपने साथी को ठगे हुए रुपये ट्रांसफर करता था। इसके इन रुपयों को बैंक से निकाला जाता था। 

बता दें कि आरोपितों से साइबर टीम ने दो मोबाइल फोन और दो सिम कार्ड भी रिकवर हुए है। पबजी गेम की आईडी को लेकर धोखाधड़ी पहली बार नहीं हुई है। इससे पहले भी इस तरह के मामले सामने आए है।

यह भी पढ़ें- गूगल-फेसबुक भी होंगे साइट पर हुई धोखाधड़ी के जिम्मेदार, आईटी मंत्रालय जल्द लाएगा डिजिटल इंडिया एक्ट

यह भी पढ़ें- युवाओं का अपराधी बना रहा आनलाइन गेम, पबजी के बाद युवाओं पर असर डाल रहा बीजीएमआई गेम

Edited By: Abhi Malviya

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट