खरखौदा (सोनीपत), जेएनएन। हरियाणा सिविल सर्विसेज-2016 (Haryana Civil Services 2016) बैच की टॉपर व खरखौदा की एसडीएम श्वेता सुहाग ( SDM Shweta Suhag) ने अब अपना घर बसाने का फैसला किया है। वह भिवानी के रहने वाले बिजनेसमैन व्यवसायी हरीश सांगवान (Harish Sangwan) से शादी करने जा रही हैं। हरीश और श्वेता रोहतक के एक मैरिज पैलेस में 12 मार्च को परिणय सूत्र में बंध जाएंगे। मूलरूप से हरियाणा के झज्जर जिले के गांव बिसान की रहने वाली श्वेता सुहाग की गिनती प्रदेश के होनहार व इमानदारी अफसरों में होती है। श्वेता ने साल 2016 में हरियाणा सिविल सर्विसेज परीक्षा में टॉप कर जिले व प्रदेश का नाम रोशन किया था। इसके बाद उन्हें सोनीपत जिले का बतौर सीटीएम नियुक्ति किया गया था। 

सीटीएम की नियुक्ति के बाद श्वेता को खरखौदा उपमंडल अधिकारी (एसडीएम) नियुक्ति किया गया था। 16 अगस्त 2018 को उन्हें एसडीएम की जिम्मेदारी सौंपी गई थी। वह अभी रोहतक की सनसिटी सोसायटी में रहती हैं।

 

जानिए कौन हैं श्वेता सुहाग के होने वाले पति

श्वेता सुहाग के होने वाले जीवन साथी कारोबारी हरीश सांगवान का जन्म नेपाल में हुआ है। उनके पिता रोशनलाल नेपाल में कारोबार करते हैं। हरीश सांगवान के पिता मूलरूप से भिवानी के रहने वाले हैं लेकिन हरीश ने हरियाणा में कार्निस फूड ब्रांड के नाम से अपनी कंपनी शुरु की है। हरीश सांगवान ने पायलट की परीक्षा भी पास कर ली थी लेकिन उनका रुझान बिजनेस की ओर था। इसलिए उन्होंने नौकरी करने की बजाय अपना कारोबार करने का फैसला किया। हरीश ने निरमा विश्वविद्यालय अहमदाबाद से एमबीए किया हुआ है। फिलहाल हरीश सांगवान भिवानी में ही रहते हैं वहीं से अपना कारोबार करते हैं।

 

हरीश सांगवान की श्वेता सुहाग से कैसे हुई थी पहली मुलाकात

मिली जानकारी के मुताबिक, अपने एक कामन फ्रेंड के माध्यम से एसडीएम श्वेता सुहाग व हरीश सांगवान एक- दूसरे से मिले थे। एक-दूसरे को नजदीक से जानने के बाद बात रिश्ते तक जा पहुंची और दोनों ने शादी करने का फैसला लिया। अब दोनों 12 मार्च को शादी कर लेंगे। 

अब सांपला की एसडीएम बनीं

हरियाणा सरकार की तरफ से शुक्रवार को जारी आदेश के अनुसार, श्वेता सुहाग का तबादला खरखौदा से सांपला कर दिया गया है। उन्हें सांपला का नया एसडीएम बनाया गया है। इसके अलावा उन्हें रोहतक की चकबंदी विभाग की संयुक्त निदेशक की जिम्मेदारी भी दी गई है लेकिन अभी तक उन्होंने कार्यभार नहीं संभाला है।

फिलहाल वह पदभार कब ग्रहण करेंगी इसकी जानकारी नहीं मिल पायी है। माना जा रहा है खरखौदा में नई नियुक्ति तक वह पद पर बनी रहेंगी। सूत्रों के मुताबिक वह मंगलवार को यहां से जा सकती हैं। 

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप