संवाद सहयोगी, कालांवाली :

कोरोना महामारी के चलते करीब एक वर्ष से बंद पड़ी पैसेंजर ट्रेनों का रविवार से हिसार -बठिडा रूट पर आवागमन शुरू होने से यात्रियों को काफी राहत मिलेगी। रेलवे विभाग द्वारा पैसेंजर ट्रेन रेवाड़ी से फाजिल्का रूट पर चलाई जा रही है। ट्रेन का किराया बढ़ाने पर यात्रियों को आर्थिक नुकसान का सामना करना पड़ रहा है। यात्रियों ने नाराजगी व्यक्त करते हुए बढ़ाए गए किराये को वापस लेने की मांग की है। पैसेंजर ट्रेन दूसरे दिन रेवाड़ी से चलकर बठिडा जाने वाली शनिवार को दोपहर बाद तीन बजकर 10 मिनट पर कालांवाली रेलवे स्टेशन पर पहुंची। यही गाड़ी बठिडा से वापस सायं करीब साढ़े छह बजे कालांवाली पहुंचेगी। लोगों को रेलगाड़ियां शुरू होने को लेकर पुख्ता जानकारी न होने पर स्टेशन पर यात्रियों की संख्या कम ही नजर आई। इसके अलावा रेलगाड़ी में भी यात्रियों की भीड़ कम थी।

-- दिसंबर में शुरू हुई किसान एक्सप्रेस

रेलवे विभाग ने इससे पूर्व बठिडा से दिल्ली चलने वाली किसान एक्सप्रेस को दिसंबर माह में शुरू कर दिया था, जिसमें यात्री सीट की बुकिग करवा कर सफर कर सकता है। यह ट्रेन प्रात: करीब पांच बजकर 40 मिनट पर कालांवाली पहुंचती है। इसके अलावा कुछ दिन पूर्व गंगानगर से रेवाड़ी जाने वाली पैसेंजर गाड़ी को भी शुरू किया गया जो कालांवाली स्टेशन पर प्रात: पांच बजे पहुंचती है। रेलवे के आदेशानुसार इस गाड़ी में भी यात्री सीट की बुकिग करवाकर सफर कर सकता है।

----

पैसेंजर ट्रेन में बुकिग की जरूरत नहीं

रेवाडी- बठिडा पैसेंजर ट्रेन में सफर करने के लिए यात्री को सीट बुकिग की आवश्यकता नहीं है। यह ट्रेन दोपहर बाद तीन बजे कालांवाली स्टेशन पर बठिडा जाने के लिए पहुंचेगी और बठिडा से चलकर सांय करीब साढ़े छह बजे कालांवाली पहुंचेगी। कालांवाली के स्टेशन मास्टर हंसराज ने बताया कि रेलवे विभाग द्वारा रविवार से एक ओर पैसेंजर ट्रेन रेवाड़ी से फाजिल्का रूट पर चलाई जा रही है जो सुबह 10 बजकर 50 मिनट पर कालांवाली स्टेशन पर पहुंचेगी, जो आठ मार्च को बठिडा की ओर से चलकर दोपहर करीब दो बजे कालांवाली स्टेशन पर पहुंचेगी। इस ट्रेन में भी सफर करने के लिए सीट बुकिग की आवश्यकता नहीं होगी।

-----

पुलिस ने बढ़ाई सुरक्षा

रेलवे चौकी प्रभारी भूप सिंह हुड़डा ने बताया कि ट्रेनों का आगमन होने से सुरक्षा व्यवस्था बढ़ा दी है। यात्रियों को हिदायत दी जा रही है कि वे मुंह पर मास्क लगाकर ट्रेन में सफर करें। कोविड- 19 के नियमों की पालना करें अन्यथा उनका चालान काटा जाएगा।

------

रेलयात्री हंसराज, बिदर सिंह, राजू, नरेश कुमार ने कहा कि रेलवे विभाग ने पैसेंजर ट्रेनों को चला कर चाहे लोगों को राहत देने का काम किया। मगर रेल किराए में भारी वृद्धि कर आम नागरिक की कमर तोड़ने का काम किया है। कोरोना महामारी से पहले कालांवाली से बठिडा व सिरसा का पैसेंजर ट्रेन का किराया मात्र 10 रुपये था जो अब बढ़ाकर 30 रुपये कर दिया है, जिससे आम नागरिक की जेब पर काफी बोझ ़ेढेगा। सरकार बढ़ा किराया वापस लें।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021