Move to Jagran APP

Karnal Assembly By-Election 2024: CM नायब सैनी के सामने त्रिलोचन ने दोबारा भरा नामांकन पत्र, इसके पीछे ये थी वजह

करनाल विधानसभा उपचुनाव (Karnal Assembly By-Election 2024) में मुख्यमंत्री नायब सिंह सैनी को टक्कर देने के लिए कांग्रेस के उम्मीदवार त्रिलोचन सिंह ने अपना नामांकन दोबारा भरा। इससे पहले वह पूर्व सीएम भूपेंद्र सिंह हुड्डा और पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष चौधरी उदयभान की मौजूदगी में नामांकन कर चुके थे। जानें त्रिलोचन के दोबारा से पर्चा दाखिल करने के पीछे आखिर क्या कारण थे।

By Jagran News Edited By: Monu Kumar Jha Published: Sun, 05 May 2024 09:31 AM (IST)Updated: Sun, 05 May 2024 10:01 AM (IST)
Haryana News: सीएम नायब के सामने त्रिलोचन सिंह ने दोबारा भरा नामांकन पत्र। फाइल फोटो

जागरण संवाददाता, करनाल। (Haryana Politics Hindi News) विस उपचुनाव में सीएम नायब सैनी (Nayab Saini) के सामने कांग्रेस प्रत्याशी पर बनी असमंजस की स्थिति साफ हो गई है। आखिरकार कांग्रेस ने पार्टी के जिला संयोजक त्रिलोचन सिंह (Tarlochan Singh) को प्रत्याशी घोषित कर दिया है। इसके साथ ही सादगीपूर्ण तरीके से त्रिलोचन सिंह ने दोबारा नामांकन दाखिल किया।

आयोग ने चुनाव निशान की पर्ची जमा कराने का भेजा नोटिस

पहले वह भूपेंद्र सिंह हुड्डा (Bhupinder Singh Hooda) व पार्टी प्रदेशाध्यक्ष चौधरी उदयभान (Chaudhary Udaybhan) की मौजूदगी में नामांकन कर चुके थे। तब उन्होंने पार्टी के चुनाव निशान की पर्ची जिला निर्वाचन अधिकारी को नहीं दी थी। इस पर चुनाव आयोग की ओर से उन्हें नोटिस भी दिया गया था कि वह चुनाव निशान की पर्ची जमा कराएं।

पिछले विधानसभा चुनाव में मिले थे 35427 वोट

अब उन्होंने अपना पहला नामांकन रद कराते हुए नए सिरे से पार्टी प्रत्याशी के तौर पर नामांकन किया है। कवरिंग प्रत्याशी उनकी पत्नी हरमेंद्र कौर हैं। पिछले विधानसभा चुनाव में कांग्रेस प्रत्याशी के तौर पर त्रिलोचन सिंह ने पूर्व सीएम मनोहर लाल का मुकाबला करते हुए 35427 वोट हासिल किए थे।

यह भी पढ़ें: चुनाव से पहले JJP को बड़ा झटका, दुष्यंत चौटाला के राइट हैंड नरेश सहरावत ने पार्टी छोड़ी; सुबे सिंह बोहरा ने भी दिया इस्तीफा

भाजपा के शमशेर सिंह नैन भी सीएम सैनी के खिलाफ मैदान में

भाजपा (Haryana BJP) नेता शमशेर सिंह नैन ने भी मुख्यमंत्री नायब सिंह सैनी (CM Nayab Saini) के विरुद्ध ताल ठोंकते हुए अपना नामांकन दाखिल कर दिया है। शमशेर सिंह नैन (Shamsher Singh Nain) जाट हैं। जो कि जाट मतों में बिखराव का कारण बनेंगे और गैर जाट मतों का ध्रुवीकरण भाजपा के पक्ष में बनने की वजह रहेंगे।

यह भी पढ़ें: Haryana Lok Sabha Election 2024: आठ सीटों पर भाजपा-कांग्रेस में कांटे की टक्कर, मत प्रतिशत बढ़ाने का भी है दबाव


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.