Move to Jagran APP

Kaithal Crime News: पिता, पुत्र और दामाद ने बनाया गिरोह, हर दूसरी रात चुराते थे ऐसी चीज; जिसे जान उड़ जाएंगे होश

कैथल जिले (Kaithal News) से एक अजीब मामला सामने आया है। जहां पर पिता पुत्र और दामाद ने पहले तो एक गिरोह बनाया। फिर वह हर दूसरी रात ऐसी चीज चुराते थे जिसके बारे में जानकर आप दंग रह जाएंगे। पुलिस ने कार्रवाई करते हुए एक व्यक्ति उसके दो पुत्र और एक दामाद को गिरफ्तार किया है। उन्होंने 10 महीने में 152 चोरियां करने की बात कुबूली।

By Pankaj Kumar Edited By: Monu Kumar Jha Published: Wed, 15 May 2024 07:16 PM (IST)Updated: Wed, 15 May 2024 07:16 PM (IST)
Haryana News: पिता, पुत्र और दामाद ने बनाया गैंग। प्रतीकात्मक फोटो

जागरण संवाददाता, कैथल। (Haryana Crime Hindi News) जिले में ट्रांसफार्मर चोर गिरोह ने पुलिस की नाक में दम कर रखा था। इस दिशा में कैथल पुलिस की स्पेशल टीम को केस सौंपे गए। सीसीटीवी और संदिग्ध वाहनों की पड़ताल में एक गिरोह का सुराग मिला। पुलिस ने पिता-पुत्र सहित तीन लोगों को गिरफ्तार किया, जो पंजाब के संगरूर जिले के पातडां के रहने वाले हैं।

यह परिवार और रिश्तेदारों का मिल कर बुना गया गिरोह है। जो सिर्फ खेतों में ट्रांसफार्मर और ट्यूबवेल के तार चोरी करता है। जुलाई 2023 के बाद से अब तक 10 माह यानी करीब 300 दिन में इन लोगों 152 से ज्यादा चोरी की वारदाताें को अंजाम देना स्वीकार किया है। यानी हर दूसरी रात चोरी।

पुलिस (Kaithal Police) का कहना है कि यह आंकड़ा बढ़ भी सकता है। पुलिस ने इनसे साढ़े तीन क्विंटल तांबे के तार और 40 किलो से ज्यादा ट्यूबवेल केबल बरामद किए हैं। पकड़े गए लोगों में पंजाब के पटियाला जिले के पातड़ा के चुनागरा रोड टिब्बा बस्ती निवासी राजकुमार (40) , उसके दो बेटे कर्ण सिंह (19), विक्रम सिंह (21 ) और दामाद जिला संगरूर के छोटी दिंडोली निवासी अमनदीप सिंह अमन (23) को गिरफ्तार किया है।

इनके तीन और रिश्तेदारों की पुलिस को तलाश है। इस गिरोह के सदस्यों का मुख्य धंधा ट्रांसफार्मर के तार चुराना ही है। गांव दुसेरपुर निवासी रोशनलाल की शिकायत पर थाना गुहला में एक केस दर्ज किया गया था। शिकायत भी कि एक मई 2024 की रात उसके खेतों में लगे तीन ट्रांसफार्मर का सामान अज्ञात व्यक्तियों ने चोरी कर लिया है।

यह भी पढ़ें: Haryana Crime News: INLD के पूर्व प्रदेशाध्यक्ष नफे सिंह राठी के बेटे ने हाई कोर्ट से मांगी सुरक्षा, बताया जान को खतरा

ट्रांसफार्मर से तार चोरी के बढ़ते मामलों को देखते हुए इसे सीआईए-वन को सौंपा गया था। सीआईए-वन प्रभारी इंस्पेक्टर महेन्द्र सिंह की अगुवाई में टीम ने सीसीटीवी फुटेज व साइबर सैल की सहायता से जांच की। पातड़ा सात मई को विक्रम व अमनदीप को गिरफ्तार किया गया। इनका न्यायालय से आठ दिन का पुलिस हिरासत रिमांड प्राप्त किया गया था।

रिमांड के दौरान पूछताछ में उन्होंने सारे राज खोल दिए। इसके आधार पर 10 मई को राजकुमार व कर्ण को गिरफ्तार किया गया। जिनका भी न्यायालय से पुलिस रिमांड प्राप्त किया गया। पत्रकारों से बातचीत में एसपी उपासना ने बताया कि इन चारों ने जिला कैथल के थाना गुहला, चीका, सदर व सीवन के क्षेत्र में कुल 152 चोरी की वारदातों को अंजाम देना स्वीकार किया है।

इनमें ट्रांसफार्मर चोरी की 144 तथा खेतों से सबमर्सीबल बोर के केबल चोरी की आठ वारदात शामिल हैं।राजकुमार करता था दिन में रेकीएसपी ने बताया कि राजकुमार दिन के समय बाइक पर वारदात करने के लिए खेतों में लगे ट्रांसफार्मर की रेकी करता था।

रात के समय छह से सात लोग मिलकर चोरी की वारदात को अंजाम देते थे। ट्रांसफार्मर से सामान चोरी करके यह पातड़ा के एक कबाड़ी के साथ-साथ राह चलते-फिरते कबाडियों को भी बेच देते थे। कुछ सामान यह बेचने की फिराक में थे, जिसको बरामद किया गया है।

यह भी पढ़ें: Jhajjar Crime News: बहन को फोन कर कहा जिंदगी से दुखी हूं, फिर उठाया ये खौफनाक कदम; घर में पसरा मातम


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.