जेएनएन, झज्जर। हिंद केसरी पहलवान का दो बार खिताब जीतने वाले पहलवान मौसम खत्री और अंकिता पूनिया रविवार को परिणय सूत्र में बंध गए। शहर के शहनाई गार्डन में वैवाहिक रस्में निभाई गईं। इस दौरान मौजूद  प्रदेश व देश की कई नामी-गिरामी हस्तियों ने नव दंपती को आशीर्वाद दिया।

मौसम खत्री के साथ वैवाहिक बंधन में बंधने वाली अंकिता मूल रूप से झज्जर के ही गांव खुडन की रहने वाली है। वह सोनीपत के जीवीएम कॉलेज में एमएमसी प्रथम वर्ष में पढ़ती हैं। मौसम खत्री व अंकिता की शादी से दोनों के पिता की 30 साल पुरानी दोस्ती रिश्तेदारी में बदल गई है।

मौसम के पिता पहलवान सूबे सिंह व अंकिता के पिता पहलवान कप्तान सिंह एक साथ पहलवानी करते थे। कप्तान सिंह कहना है कि बेटी को वह पहलवान नहीं बना सके, क्योंकि उसकी रुचि पढऩे में थी। मौसम वर्तमान में हरियाणा पुलिस में सब इंसपेक्टर के पद पर तैनात है। 26 वर्षीय मौसम खत्री सोनीपत के गांव पाची जाटान के रहने वाले है। पिता सूबे सिंह से प्रेरित होकर मौसम ने कुश्ती के क्षेत्र में आए।

यह भी पढ़ें: केंद्रीय मंत्री मेघवाल बोले- किसानाें के कर्ज माफ करने को केंद्र के पास पैसे नहीं

Posted By: Kamlesh Bhatt