Move to Jagran APP

'क्षेत्रीय दल ही लोगों के हकों की रक्षा कर सकते हैं...', नामांकन के दौरान बोलीं INLD प्रत्याशी सुनैना चौटाला

Haryana Lok Sabha Election 2024 हिसार से इंडिया नेशनल लोकदल (INLD) की प्रत्याशी सुनैना चौटाला ने आज नामांकन किया। वहीं पार्टी के वरिष्ठ नेता अभय ने जनसभा में जजपा पर निशाना साधते हुए कहा कि जो पार्टी उनके निकलकर बनी थी उसका तो मलियामेट हो गया है। वहीं सुनैना चौटाला ने कहा कि क्षेत्रीय दल ही लोगों के हकों की रक्षा कर सकते हैं।

By Amit Dhawan Edited By: Prince Sharma Published: Fri, 03 May 2024 04:31 PM (IST)Updated: Fri, 03 May 2024 04:31 PM (IST)
हिसार से इंडिया नेशनल लोकदल (INLD) की प्रत्याशी सुनैना चौटाला ने आज नामांकन किया

जागरण संवाददाता, हिसार। Haryana Lok Sabha Election: इंडियन नेशनल लोकदल (इनेलो) की प्रत्याशी सुनैना चौटाला (Sunaina Chautala) ने अपना नामांकन शुक्रवार को भर दिया। कवरिंग प्रत्याशी के रूप में पति रविंद्र सिंह चौटाला ने फार्म भरा है। पार्टी के वरिष्ठ नेता अभय चौटाला (Abhay Singh Chautala) नामांकन भरवाने के लिए नहीं आए।

क्षेत्रीय दल ही हकों की रक्षा कर सकते हैं: सुनैना चौटाला

वह ऑटो मार्केट फेज-1 में आयोजित जनसभा के बाद कुरुक्षेत्र निकल गए। अभय ने जनसभा में जजपा पर कटाक्ष किया। अभय ने कहा कि जो पार्टी उनके निकलकर बनी थी उसका तो मलियामेट हो गया है। वहीं सुनैना चौटाला ने कहा कि क्षेत्रीय दल ही लोगों के हकों की रक्षा कर सकते हैं।

इनेलो की तरफ से नामांकन फार्म भरने से पहले सेक्टर 14 के नजदीक देवीलाल सदन में हवन किया। फेज-1 में जनसभा करते हुए अभय सिंह चौटाला ने कहा कि जजपा का कुछ नहीं होगा।

यह भी पढ़ें- Haryana News: रिवॉल्वर हो या फिर राइफल... अगर जमा नहीं करवाए हथियार तो रद होंगे लाइसेंस, आदेश जारी

JJP नेताओं की बात सुनने के लिए कोई तैयार नहीं

उन्होंने कहा कि जजपा नेताओं की बात भी कोई सुनने को तैयार नहीं है। भाजपा प्रत्याशी को गांव में किसान घुसने नहीं दिया जा रहा। जजपा का भी विरोध है। कांग्रेस के पास प्रत्याशी ही नहीं बचे है। सबसे मजबूत प्रत्याशी इनेलो के पास है। जनता को इस पार्टी पर विश्वास है।

अभय सिंह चौटाला ने कहा कि उनकी तरफ से फरवरी में परिवर्तन यात्रा शुरू की थी, उसको पूरा भी किया। लोगों की समस्याएं सामने आई। अभय ने कहा कि भाजपा और कांग्रेस से सभी वर्ग परेशान है। सभी लोग इनेलो से जुड़ रहे है। पार्टी का मकसद है कि देवीलाल की नीतियों को आगे बढ़ाना हैं। अभय ने कहा कि हर कार्यकर्ता को अपना बूथ, फिर गांव जीतना है।

इनेलो कोई पहचान की मोहताज नहीं

इनेलो प्रत्याशी सुनैना चौटाला ने कहा कि हरियाणा क्षेत्र को पता चल चुका है क्षेत्रीय दल उनके हकों की रक्षा कर चुके है। देश में 13 माह तक किसान कमेरे वर्ग ने किसान आंदोलन लड़ा। तीन कानून के खिलाफ खड़े हुए। यह कानून मनमोहन सरकार में लागू होते लेकिन क्षेत्रीय दल के बहुमत में होने के कारण वह इसे लागू नहीं कर सके।

उन्होंने कहा कि इनेलो कोई पहचान की मोहताज नहीं है। देवीलाल की नीतियों ही बहुत है। सुनैना ने कहा कि पिछले चुनाव में धोखा लोगों के साथ हुआ। इस बार 1987 का इतिहास हरियाणा में दोहराया जाएगा।

देवीलाल की विरासत हमारी विचारधारा: सुनैना

कांग्रेस नेता के बयान पर बोलते हुए सुनैना ने कहा कि जय प्रकाश बड़े भाई है। जिस भी पार्टी ने उनको बनाया वह उसको छेाड़ कर चले गए।

देवीलाल की विरासत उनकी विचारधारा है, जो पकड़ेगा वहीं उनकी विरासत का उनकी विरासत का हकदार होगा। जय प्रकाश देवीलाल की विचारधारा को छोड़ चुके है। बंसीलाल की विचारधारा को छोड़ दिया था। वह तय करें कि वह किस पार्टी के उत्तराधिकारी है।

ओम प्रकाश चौटाला को लेकर बोलीं सुनैना

जजपा पर बोलते हुए सुनैना ने कहा कि जजपा के साथ जो हर्ष हो रहा है यह किसी को कहने की जरूरत नहीं है। हिसार लोकसभा में 80 प्रतिशत वोटर किसान कमेरा वर्ग है।

किसी ने भी किसानों के लिए इस्तीफा नहीं दिया। इनेलो की एक सीट थी और उनकी तरफ से भी इस्तीफा दिया गया। ओम प्रकाश चौटाला पर बोलते हुए कहा कि वह अभी कुछ बीमार है। हमारे बड़े शेर है और जल्द फिल्ड में नजर आएंगे। सुनैना ने कहा कि वह उकलाना के दौलतपुर गांव की बेटी है। आज लोग देवीलाल की नीतियों को ढूंढ रहे हैं।

यह भी पढ़ें- करनाल से कांग्रेस प्रत्याशी दिव्यांशु बुद्धिराजा को छह साल पुराने मामले में मिली जमानत, पूर्व CM मनोहर लाल से होगा मुकाबला


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.