राज्य ब्यूरो, चंडीगढ़। हिसार इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर रनवे के निर्माण का कार्य लगभग पूरा हो चुका है और ट्रायल के लिए जल्द ही रनवे पर बड़ा हवाईजहाज उतारा जाएगा। हिसार हवाई अड्डे का तेजी से निर्माण करने के साथ-साथ हिसार को हरियाणा के सबसे बड़े मैनुफैक्चरिंग क्लस्टर के तौर पर तैयार किया जाए, इसके लिए सरकार द्वारा विशेष योजना पर कार्य हो रहा है। यह जानकारी प्रदेश के उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने दी।

डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला ने कहा कि हिसार में महाराजा अग्रसेन इंटरनेशनल एयरपोर्ट बनने से हिसार में उन्नति के नए द्वार खुलेंगे और हिसार के साथ-साथ प्रदेश के लोगों को इसका पूरा लाभ मिलेगा। दुष्यंत चौटाला ने कहा कि हिसार एयरपोर्ट के रनवे का काम मार्च 2023 तक पूरा हो जाएगा। उन्होंने कहा कि इस 12 दिसंबर को ही हवाई अड्डे के रनवे पर एक बड़े जहाज का ट्रायल लिया जाएगा। दुष्यंत चौटाला ने कहा कि वे खुद एविएशन विभाग और संबंधित विभाग के अधिकारियों के साथ हिसार में 18 सीटों वाले डोर्नियर जहाज में आएंगे और रनवे का निरीक्षण करेंगे। साथ ही हिसार एयरपोर्ट से अन्य राज्यों से हवाई सेवाएं शुरू करने की दिशा में तकनीकी पहलुओं पर विस्तार से चर्चा की जाएगी। उन्होंने कहा कि एयरपोर्ट से संबंधित सभी कार्य समय पर पूरे हो, इसके लिए वे समय-समय पर समीक्षा कर रहे है।

उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने कहा कि एयरपोर्ट के निर्माण के साथ-साथ हिसार में बड़े-बड़े उद्योग स्थापित हो, इसके लिए सरकार हिसार को मैन्युफैक्चरिंग हब बनाने के लिए बड़ी योजनाओं पर काम कर रही है। उन्होंने कहा कि इसको लेकर हिसार में 3000 हेक्टेयर में केंद्र और हरियाणा सरकार मिलकर इंटीग्रेटेड मैन्युफैक्चरिंग क्लस्टर बनाने की योजना कर रही है और इस संबंध में जल्द एक महत्वपूर्ण बैठक होगी। दुष्यंत चौटाला ने कहा कि इस बैठक में केंद्र और प्रदेश के बीच एक अहम समझौता भी होगा क्योंकि यह मैन्युफैक्चरिंग क्लस्टर दोनों सरकारों के ज्वाइंट वेंचर में स्थापित किया जाएगा। उन्होंने कहा कि इस कदम से हिसार हरियाणा का सबसे बड़ा मैनुफैक्चरिंग क्लस्टर के रूप में उभरेगा।

Edited By: Amit Singh

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट