अहमदाबाद, जेएनएन। Donald Trump. अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप 24 फरवरी को गुजरात दौरे पर आ रहे हैं। अमेरिकी एयरफोर्स का ग्लोब मास्टर कार्गो केरियान विमान बुधवार को दूसरी बार अहमदाबाद एयरपोर्ट पहुंचा है। विमान सुरक्षा एक्विपमेंट और सीक्रेट सर्विस आफिसर्स का रसाल है। इससे पहले सोमवार यह विमान अहमदाबाद एयरपोर्ट पर आया था, जिसमें ट्रंप के लिए विशेष गाड़ियां लाई गई थीं।

ग्लोब मास्टर विमान केवल 3500 फुट (1064 मीटर) लंबे और केवल 90 फुट (27.4 मीटर के चौड़े रन-वे पर से ही टेक ऑफ और लैंडिंग कर सकता है। इतने छोटे रनवे पर से विमान मुड़ भी सकता है।

अमेरिकी राष्ट्रपति को विश्व की सबसे सुरक्षित कार द बीस्ट में बैठाया जाता है। अमेरिका के राष्ट्रपति जब किसी भी देश में जाते हैं तो पहले एयरफोर्स के ग्लोब मास्टर कार्गों केरियर विमान में इसी तरह से कार फीट कर संबंधित शहरों में ले जाई जाती है। 24 फरवरी को अहमदाबाद में रोड शो के दौरान डोनाल्ड ट्रप की 40 से अधिक आधुनिक कारों को शामिल जा सकता है।

गौरतलब है कि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के दौरे से पहले गुजरात के कच्छ जिले में स्थित कांडला बंदरगाह के निकट एक निर्जन द्वीप से सेटेलाइट फोन बरामद हुआ है। पुलिस अधीक्षक (कच्छ पूर्वी) परीक्षिता राठौड़ ने बताया कि सोमवार को मछुआरे इब्राहिम ने सेटेलाइट फोन के साथ पुलिस से संपर्क किया। उसने बताया कि तीन फरवरी को उसे यह फोन पापरवा द्वीप पर कांडला बंदरगाह की जेट्टी संख्या 10 के पास से मिला।

पापरवा एक छोटा सा द्वीप और वहां पर कोई भी व्यक्ति नहीं रहता। मछुआरे वहां अपनी मछलियां सुखाने के लिए जाते हैं। परीक्षिता ने बताया कि इब्राहिम उसे सामान्य मोबाइल फोन समझकर सिम कार्ड डलवाने के लिए एक दुकान पर ले गया था। दुकानदार ने ही उसे बताया कि यह सामान्य मोबाइल फोन नहीं है। पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है। इसमें केंद्रीय और राज्य खुफिया इकाइयां भी लगाई गई हैं। प्रारंभिक जांच में पता चला है कि सेटेलाइट फोन सक्रिय नहीं है। उसके आइएमईआइ नंबर से कॉल रिकॉर्ड के बारे में जानकारी हासिल की जाएगी।

यह भी पढ़ेंः डोनाल्‍ड ट्रंप की यात्रा के दौरान उद्यमियों के चार्टर प्‍लेन भी एयरपोर्ट से हटेंगे

Posted By: Sachin Kumar Mishra

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस