अहमदाबाद, जेएनएन। Ahmedabad Police Station. महानगर के सभी पुलिस थानों में अब संविधान निर्माता डॉ भीमराव आंबेडकर की फोटो या प्रतिमा लगानी अनिवार्य कर दी गई है। थानों में महात्‍मा गांधी व सरदार पटेल की फोटो व प्रतिमा लगाना पहले ही आवश्‍यक कर दिया गया था।

गुजरात के गृह मंत्रालय की ओर से जारी एक परिपत्र के मुताबिक, 71वें गणतंत्र दिवस पर राज्‍य के पुलिस महकमे के कार्यालयों में संविधान निर्माता डॉ भीम राव आंबेडकर की फोटो अथवा प्रतिमा लगाने का निर्णय किया गया था। अहमदाबाद पुलिस आयुक्‍त आशीष भाटिया का कहना है कि अहमदाबाद महानगर के सभी पुलिस थानों में जल्द ही डॉ आंबेडकर की फोटो या प्रतिमा लगवाई जाएगी। भाटिया का कहना है कि पुलिस संविधान व कानून के अनुसार काम करने को प्रतिबद्ध है। पुलिस अफसर व जवानों में संविधान के प्रति निष्‍ठा बनी रहे उसके लिए पुलिस थानों में संविधान निर्माता का फोटो लगाने का निर्णय किया गया जिसे शीघ्र लागू किया जाएगा।

अहमदाबाद कंट्रोल रूम के पुलिस उपायुक्‍त विजय पटेल बताते हैं कि संविधान लागू होने के 71 साल बाद इस तरह का फैसला किया गया, जिसे जल्‍द ही लागू कराया जाएगा। गत 28 फरवरी को ही शहर पुलिस ने इसका परिपत्र जारी कर सभी पुलिस थाना प्रभारियों को जल्‍द से जल्‍द पुलिस थानों में डॉ आंबेडकर की प्रतिमा या फोटो लगाने के निर्देश जारी किए हैं।

करीब तीन साल पहले अक्‍टूबर 2019 में पुलिस थानों में राष्‍ट्रपिता महात्‍मा गांधी की फोटो या प्रतिमा लगाने का निर्देश जारी किया गया था। उसके बाद रन फॉर यूनिटी के समारोह से पहले सरदार पटेल की फोटो व प्रतिमा लगाने का फैसला किया गया। आजादी के आंदोलन में भाग लेने वाले इन महापुरुषों ने आधुनिक भारत के निर्माण में अहम योगदान निभाया। इसलिए उनके सम्‍मान व कानून का राज स्‍थापित करने के उद्देश्‍य से पुलिस महकमे में महापुरुषों की फोटो अथवा प्रतिमा लगाने का फैसला किया गया है।

गुजरात की अन्य खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021