पेरिस, एजेंसी। बार्सिलोना के सुपरस्टार फुटबॉलर लियोनेल मेसी को छठी बार बैलन डि ओर (Ballon d'Or) खिताब से नवाजा गया है। मंगलवार को मेसी को ये खिताब मिला है। इसी के साथ उन्होंने पुर्तगाल के स्टार फुटबॉलर क्रिस्टियानो रोनाल्डो को पीछे छोड़ दिया है, जिन्होंने 5 बार ये खिताब अपने नाम किया था। अवॉर्ड सेरेमनी के बाद लियोन मेसी ने खुद इस बात को स्वीकार किया है कि जब रोनाल्डो ने उनकी बराबरी की थी तो उनको जलन हुई थी।

लियोनेल मेसी ने पेरिस में आयोजित हुई इस अवॉर्ड की सेरमनी में स्वीकार किया है कि जब क्रिस्टियानो रोनाल्डो ने पांचवीं बार साल 2017 में बैलन डि ओर खिताब जीतकर उनकी बराबरी की थी तो उन्हें इससे तकलीफ हुई थी। मेसी ने 2009 से 2012 तक लगातार चार पर खिताब जीता था, जबकि पांचवां खिताब उन्होंने साल 2015 में अपने नाम किया था। वहीं, रोनाल्डो ने 2008, 2013, 2014, 2016 और 2017 में बैलन डि ओर अवार्ड जीतकर मेसी की बराबरी की थी।

मैं ज्यादा दिन शीर्ष पर नहीं रह सका- मेसी

मेसी ने माना कि रोनाल्डो को उनका पांचवां पुरस्कार लेते हुए देखना उनके लिए मुश्किल था। लियोन मेसी ने कहा, "जब मैंने पांचवां पुरस्कार जीता था तो मैंने उसका लुत्फ उठाया, क्योंकि ऐसा करने वाला मैं अकेला था। जब क्रिस्टियानो ने मेरी बराबरी की तो मुझे इससे थोड़ी सी तकलीफ पहुंची थी क्योंकि मैं ज्यादा लंबे समय तक अकेला शीर्ष पर नहीं रहा था। इसे समझा जा सकता है, लेकिन जब मैं पांच पुरस्कार के साथ अकेला था तो वह अच्छा था।"

मेसी ने आगे कहा, "क्या मैं पिछले कुछ वर्षो में निराश था? कह सकते हैं, मैं समझता हूं कि मैं क्यों नहीं जीत सका। एक टीम के तौर पर हम अपना सबसे बड़ा लक्ष्य हासिल नहीं कर पाए, जो चैंपियंस लीग जीतना था, जो आपको बैलन डि ओर जीतने के और अधिक मौके देता है। जब रोनाल्डो ने इसे जीता था तो वह उनका बेहतरीन सत्र रहा था जिसमें उन्होंने चैंपियंस लीग जीती थी और वह निर्णायक साबित हुए थे। वह इसके हकदार थे और मैं ऐसा नहीं कर सका था।"

Posted By: Vikash Gaur

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस