नई दिल्ली, जेएनएन। 23 सितम्बर को देशभर के सिनेमाघरों में नेशनल सिनेमा डे सेलिब्रेट किया गया, जिसके तहत शुक्रवार को फिल्मों के टिकट सिर्फ 75 रुपये में बेचे गये। सोशल मीडिया में आ रही तस्वीरों से अंदाजा लगाया जा सकता है कि नेशनल सिनेमा डे हिट रहा। तस्वीरों में टिकट विंडो के सामने लम्बी-लम्बी कतारें देखी जा सकती हैं। वहीं, कुछ तस्वीरें सिनेमा हॉलों के भीतर की हैं, जहां हाउसफुल जैसे मंजर नजर आ रहे हैं। 

ऐसा लगता है कि 75 रुपये में फिल्म देखने के लिए लोग थिएटरों में टूट पड़े। यह ऐसा दृश्य है, जो अब दुर्लभ हो चुका था। खासकर, पैनडेमिक के लम्बे ब्रेक के बाद सिनेमाघर जाने की जैसे आदत छूट गयी थी। मगर, नेशनल सिनेमा डे ने साबित कर दिया कि दर्शक अभी भी दूर नहीं हुए हैं। इस सफलता से सवाल यह उठता है, क्या बायकॉट गैंग वास्तविक जीवन में बेअसर हैं? अगर कुछ असर होता तो टिकटों की कीमत चाहे जितनी कम रखी जाती, दर्शक सिनेमाघरों में नहीं पहुंचते। 

सिनेमाघरों में पहुंचे 65 लाख दर्शक

मल्टीप्लेक्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया की ओर से जारी विज्ञप्ति के अनुसार, नेशनल सिनेमा डे पर 65 लाख से अधिक दर्शक सिनेमाघरों में फिल्में देखने पहुंचे। दर्शकों की बढ़ी तादाद को एडजस्ट करने के लिए शुक्रवार को सुबह 6 बजे से शोज चालू कर दिये गये थे। दर्शकों की यह संख्या 2022 का रिकॉर्ड है। इससे उत्साहित मल्टीप्लेक्स एसोसिएशन ने दर्शकों का शुक्रिया अदा किया है। अब अगर मूवीगोअर्स की इस संख्या को एक टिकट की कीमत 75 रुपये से गुणा करें तो यह रकम 48 करोड़ 75 लाख रुपये बनती है, यानी सिंगल डे में देशभर के मल्टीप्लेक्स और सिनेमाघरों ने इतने के टिकट बेचे। 

नेशनल सिनेमा डे ने निकाली बायकॉट गैंग की हवा

इस साल शायद ही कोई ऐसी चर्चित फिल्म बची हो, जिसके बायकॉट का अभियान सोशल मीडिया में ना चलाया गया हो। अक्षय कुमार की सम्राट पृथ्वीराज, आमिर खान की लाल सिंह चड्ढा और रणबीर कपूर की ताजा रिलीज ब्रह्मास्त्र के खिलाफ जमकर बायकॉट कैम्पेन चलाये गये।

कुछ फिल्में विभिन्न कारणों से फ्लॉप रहीं, मगर इनकी असफलता का क्रेडिट बायकॉट गैंग्स को दे दिया गया। ब्रह्मास्त्र ने इस धारणा को काफी हद तक बदला। सोशल मीडिया में फिल्म के लम्बे विरोध के बावजूद इस फिल्म ने 36 करोड़ की शानदार ओपनिंग ली थी और अब तक 200 करोड़ से अधिक कलेक्शन कर चुकी है।

नेशनल सिनेमा डे पर टिकटों की रिकॉर्ड बिक्री के बाद एक सवाल यह भी खड़ा हो गया है कि बॉलीवुड फिल्मों के खिलाफ असली विलेन कौन है- बायकॉट गैंग या टिकटों की आसमान छूती कीमत? दाम गिरे और थिएटर भरे। 

ब्रह्मास्त्र की रिकॉर्ड कमाई का दावा

ट्रेड रिपोर्ट्स में दावा किया जा रहा है कि कलेक्शन के लिहाज से रणबीर कपूर की फिल्म ब्रह्मास्त्र तीसरा सबसे बड़ा शुक्रवार दर्ज करने वाली है और घटी कीमत के बावजूद कलेक्शंस 10 करोड़ के पार जा सकते हैं। वहीं, चुप, धोखा और सीता रामम जैसी फिल्मों ने पांच गुना अधिक बिजनेस रिकॉर्ड किया है।

इन रिपोर्ट्स में यह दावा भी किया जा रहा है कि नेशनल सिनेमा डे की सफलता के बाद देश के थिएटर मालिक टिकटों की कीमत घटाने की ओर कदम उठा सकते हैं, क्योंकि इसे मनाने का मकसद लोगों को सिनेमाघरों तक लाना ही था।

नेशनल सिनेमा डे पहले 16 सितम्बर को मनाने का एलान किया गया था, जिसे बाद में एक हफ्ता खिसकाकर 23 सितम्बर कर दिया गया। देश की प्रमुख मल्टीप्लेक्स चेंस पीवीआर, कार्निवाल, पीवीआर, आइनॉक्स, सिनेपोलिस, मिराज, सिटीप्राइड, मुक्ता ए 2, मूवी टाइम, वेव, एम 3 के, डिलाइट समेत कई सिनेमाघरों ने इसमें शिरकत की और 4000 से अधिक स्क्रींस पर फिल्में दिखायी गयीं। 

यह भी पढ़ें: IMDb Worst Rated Movies: ये हैं बॉलीवुड की सबसे कम रेटिंग वाली फिल्में, जानिए- KRK की 'देशद्रोही' की पोजिशन

Edited By: Manoj Vashisth