मुंबई। क्षेत्र और भाषाई हदों को लांघकर कई एक्ट्रेसेज़ हिंदी सिनेमा में करियर की चाहत में आती रही हैं, मगर इनमें से कुछ को ही पहचान मिल पाती है या अपने काम के ज़रिए वो अपनी छाप छोड़ पाती हैं। पढ़िए इस रिपोर्ट में...

इलियाना डिक्रूज़:

इलियाना डिक्रूज़ ने रणबीर कपूर के साथ 'बर्फ़ी' से बॉलीवुड में डेब्यू किया था। हिंदी सिनेमा में पारी शुरू करने से पहले इलियाना दर्ज़न भर से ज़्यादा तमिल और तेलुगु फ़िल्मों में काम कर चुकी थीं। 'बर्फ़ी' से मिली शानदार शुरुआत का नतीजा ये हुआ कि इलियाना ने इसके बाद कोई साउथ इंडियन फ़िल्म नहीं की है, क्योंकि बॉलीवुड उन्हें जाने नहीं दे रहा। इलियाना अब 'मुबारकां' में अर्जुन कपूर के अपोज़िट हैं, जबकि 'बादशाहो' में अजय देवगन की लीडिंग लेडी के रोल में नज़र आने वाली हैं। 

यह भी पढ़ें: फ़िल्मों के टाइटल भी कुछ कहते हैं, जानिए गुड़गांव और बॉम्बे वेल्वेट में क्या है कॉमन

तापसी पन्नू:

बॉलीवुड हीरोइन बनने से पहले तापसी पन्नू तमिल, तेलुगु और मलयालम भाषा की क़रीब 10 फ़िल्में कर चुकी थीं। तापसी ने डेविड धवन की फ़िल्म 'चश्मे-बद्दूर' से हिंदी सिनेमा में अपना करियर शुरू किया और अब हिंदी सिनेमा में भी वो अपनी पहचान बना चुकी हैं। पिछले साल 'पिंक' के लिए तारीफ़ें बटोर चुकीं तापसी अब वरुण धवन के साथ 'जुड़वा 2' में दिखने वाली हैं। वहीं अनुभव सिन्हा की फ़िल्म मुल्क में तापसी ऋषि कपूर की बेटी का किरदार निभाने वाली हैं।

यह भी पढ़ें: बॉक्स ऑफ़िस पर हॉलीवुड की आंधी में उड़ गयीं ये बॉलीवुड फ़िल्में

तमन्ना भाटिया:

तमन्ना भाटिया ने अपना फ़िल्मी करियर हिंदी फ़िल्म 'चांद सा रोशन चेहरा' से किया था, मगर उन्हें साउथ इंडियन एक्ट्रेस के तौर पर अधिक जाना जाता है, क्योंकि 'हिम्मतवाला' से बॉलीवुड में दोबारा डेब्यू करने से पहले तमन्ना दो दर्ज़न से अधिक साउथ की फ़िल्में कर चुकी थीं। हालांकि हिंदी सिनेमा में तमन्ना को सबसे ज़्यादा शोहरत तेलुगु फ़िल्म 'बाहुबली- द बिगिनिंग' से मिली, जिसे हिंदी में डब करके रिलीज़ किया गया था। 

यह भी पढ़ें: एक बार फिर बाहुबली के साथ काम करना चाहती हूं- तमन्ना

असिन:

असिन ने बॉलीवुड में 'ग़जिनी' से आमिर ख़ान के साथ ड्रीम डेब्यू किया था। इसके बाद असिन ने सिर्फ़ एक तमिल फ़िल्म की और हिंदी सिनेमा को ज़्यादा वक़्त दिया। असिन इस दौरान सलमान ख़ान, अक्षय कुमार, अभिषेक बच्चन और अजय देवगन के साथ पर्दे पर नज़र आयीं। हालांकि बिज़नेसमैन राहुल शर्मा के साथ शादी के बाद असिन ने एक्टिंग से ब्रेक ले लिया है।

यह भी पढ़ें: स्वागत नहीं करेंगे... बॉलीवुड में हुनर दिखाने को बेताब ये 10 स्टार किड्स

श्रुति हासन:

वेटरन एक्टर्स कमल हासन और सारिका की बेटी श्रुति हासन साउथ और हिंदी सिनेमा को बराबर वक़्त दे रही हैं, जिसके चलते हिंदी दर्शकों के बीच भी श्रुति पॉप्यूलर हो रही हैं। श्रुति की लास्ट हिंदी फ़िल्म 'बहन होगी तेरी' है, जिसमें उन्होंने राजकुमार राव के साथ स्क्रीन स्पेस शेयर किया। 

यह भी पढ़ें: इन एक्टर्स के रोल्स पर चल चुकी है कैंची, कुछ चिल्लाये, कुछ चुप रहे

जेनेलिया डिसूज़ा:

जेनेलिया डिसूज़ा ने हिंदी फ़िल्म 'तुझे मेरी क़सम' से 2003 में एक्टिंग करियर शुरू किया था। इसके बाद ही उन्होंने साउथ सिनेमा का रुख़ कर लिया, जहां इतनी कामयाबी हासिल की कि उन्हें साउथ एक्ट्रेस समझा जाने लगा। हालांकि इस बाच जेनेलिया हिंदी फ़िल्में भी करती रहीं, जिनके ज़रिए उन्हें पहचान मिली। 2012 में रितेश देशमुख से शादी के बाद जेनेलिया की स्क्रीन प्रेजेंस लगभग ख़त्म हो गयी है। 

श्रीदेवी:

श्रीदेवी ने साउथ सिनेमा में बतौर चाइल्ड आर्टिस्ट करियर शुरू किया था। हिंदी सिनेमा में 'सोलवां सावन' (1979) फ़िल्म से डेब्यू करने से पहले श्रीदेवी तमिल, तेलुगु और कन्नड़ सिनेमा में काफ़ी काम कर चुकी थीं, मगर हिंदी सिनेमा में भी उन्हें जमकर शोहरत और चाहने वाले मिले। श्रीदेवी की फ़िल्म 'मॉम' हाल ही में रिलीज़ हुई है, जो उनके करियर की 300 वीं फ़िल्म है। 

 

जया प्रदा: 

जया प्रदा ने हिंदी फ़िल्मों में अपना करियर 1979 की फ़िल्म 'सरगम' से शुरू किया था। इस डेब्यू से पहले जया 16 तेलुगु और तमिल फ़िल्में कर चुकी थीं, लेकिन अपनी ख़ूबसूरती और एक्टिंग के दम पर जया हिंदी दर्शकों के बीच भी काफ़ी पॉप्यूलर रहीं और कई मशहूर फ़िल्मों में काम किया। हिंदी फ़िल्मों में मिली इसी शोहरत का असर है कि जया का सियासी सफ़र भी हिंदीभाषी बेल्ट से शुरू हुआ।

 

वैजयंतीमाला:

वैजयंतीमाला ऐसी एक्ट्रेस रही हैं, जिन्होंने साउथ सिनेमा में नाम कमाने के साथ हिंदी सिनेमा में भी जमकर शोहरत हासिल की। 1951 की फ़िल्म 'बहार' से हिंदी सिनेमा में डेब्यू करने से पहले वैजयंतीमाला साउथ की कुछ फ़िल्में कर चुकी थीं। इसके बाद उन्होंने कई हिट हिंदी फ़िल्मों में काम किया। 1970 की हिंदी फ़िल्म 'गंवार' के बाद वैजयंतीमाला ने एक्टिंग से संन्यास ले लिया था।

अनुष्का शेट्टी:

तेलुगु सिनेमा की जानी-मानी एक्ट्रेस अनुष्का शेट्टी ने भले ही हिंदी सिनेमा में एक भी फ़िल्म नहीं की है, मगर फिर भी वो इस लिस्ट का हिस्सा बनी हैं। 'बाहुबली' फ्रेंचाइज़ी की अभूतपूर्व कामयाबी ने अनुष्का को हिंदी सिनेमा के दर्शकों के बीच भी काफ़ी मशहूर बना दिया है। हालांकि 'बाहुबली- द बिगिनिंग' और 'बाहुबली- द कंक्लूज़न' मूल रूप से तेलुगु में बनीं, जिनके हिंदी डब वर्ज़ंस ही रिलीज़ किये गये थे। 

 

Posted By: मनोज वशिष्ठ

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप