अनुप्रिया वर्मा, मुंबई। राइटर प्रोडयूसर विन्ता नंदा के फेसबुक पर लिखे गये पोस्ट के बाद आलोक नाथ सवालों के घेरे में हैं. विन्ता नंदा ने आलोक नाथ पर यौन शोषण के आरोप लगाये हैं. हालांकि आलोक नाथ ने मीडिया से कहा है कि उन्हें किसी बात का डर नहीं है.

सिने आर्टिस्टों की असोसिएशन सिंटा ने आलोक नाथ को नोटिस भेज दिया है. साथ ही आलोक ने कहा है कि वह सही वक्त आने पर अपनी बात रखेंगे. आलोक नाथ का यह भी कहना है कि विन्ता नंदा ने जो भी कहा है, न तो मैं उसे स्वीकारता हूं और न ही उसे अस्वीकार करता हूं. ऐसे में विन्ता नंदा ने मुंबई में एक प्रेस कांफ्रेंस बुला कर कुछ पत्रकारों से बातचीत की है और उन्होंने कहा है कि उन्होंने खुशी है कि उन्हें जिस तरह मीडिया और लोगों का सपोर्ट मिल रहा है.

उन्होंने कहा है कि सच तो यह है कि 2003, 2004, 2005 में भी वह अस्वीकार नहीं कर रहे थे. विन्ता नंदा ने कहा है कि मैं फिलहाल बिल्कुल निडर महसूस कर रही हूं और वह डरा हुआ है. विन्ता ने साथ ही एक इंटरव्यू में यह भी कहा है कि उन्हें इस वक्त यह पता नहीं है कि आगे क्या होना है. लेकिन उन्हें इस बात का दुख है कि उन्हें इस बात को इतने सालों तक दबा कर रखा. उन्होंने कहा कि उन्हें इंडस्ट्री के ही कई लोगों ने कहा कि इन बातों को भूल कर आगे बढ़ जाओ. 

विन्ता नंदा का कहना है कि मैंने जो कुछ भी लिखा है, वह किसी प्लानिंग के तहत नहीं लिखा है. वहीं बता दें कि विन्ता नंदा को सिंटा का सपोर्ट तो मिल ही रहा है. उनके शो ‘तारा’ में काम करने वाले कलाकारों ने भी सपोर्ट किया है. देवेन भोजानी और नवनीत निशान दोनों ने ही उन्हें पूरी तरह से सपोर्ट किया है.

यह भी पढ़ें: आलोक नाथ का आया जवाब, जितना इस विषय पर बात करूंगा उतना ही बढ़ेगा

Posted By: Manoj Khadilkar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस