नई दिल्ली, जेएनएन। आयुष्मान खुराना की ड्रीम गर्ल के साथ अक्षय खन्ना और रिचा चड्ढा की फ़िल्म 'सेक्शन 375: मर्ज़ी या ज़बर्दस्ती' भी इस शुक्रवार को रिलीज़ हो रही है। ड्रीम गर्ल जहां रोमांटिक कॉमेडी फ़िल्म है, वहीं सेक्शन 375 एक संजीदा और मुद्दा-प्रधान फ़िल्म है, जिसकी कहानी के केंद्र में भारतीय दंड संहिता की यही धारा है। 

सेक्शन 375 को क्रिटिक्स ने अच्छे रिव्यूज़ दिये हैं। फ़िल्म की कहानी एक यौन दुष्कर्म के आरोपी के कोर्ट ट्रायल पर आधारित है। इस क्रम में वक़ीलों की जिरह के ज़रिए कई अहम बिंदुओं को उठाया गया है। सेक्शन 375 को लेकर ट्रेड जानकार उम्मीद कर रहे हैं कि अक्षय और रिचा जैसे पॉवरफुल कलाकारों की मौजूदगी दर्शकों को यह फ़िल्म देखने के लिए प्रेरित कर सकती है। अनुमान है कि पहले दिन फ़िल्म 3 करोड़ तक बिज़नेस कर सकती है। बजट अधिक ना होने की वजह से सेक्शन 375 की यह ओपनिंग इसे मजबूत आधार देने के लिए काफ़ी होगी। फ़िल्म को अजय बहल ने निर्देशित किया है। राहुल भट्ट और मीरा चोपड़ा अहम किरादरों में हैं।

पिछले कुछ दिनों में हमने देखा है कि संविधान से जुड़े अनुच्छेद और धाराओं पर फ़िल्ममेकर अलग-अलग कहानियों के ज़रिए फोकस कर रहे हैं। अनुभव सिन्हा की फ़िल्म आर्टिकल 15 में जातिगत भेदभाव के मुद्दे को उठाया गया था। इस फ़िल्म में आयुष्मान खुराना ने मुख्य भूमिका निभायी। फ़िल्म सफल रही। मनोज बाजपेयी धारा 377 को लेकर बनी अलीगढ़ में काम कर चुके हैं। 

बात करें अक्षय खन्ना के करियर की तो कुछ साल के वनवास के बाद वो हाल ही में काफ़ी सक्रिय हुए हैं। इसी साल आयी द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर में उन्हें संजय बारू के किरदार में देखा गया। 2017 में अक्षय श्रीदवी के साथ मॉम और इत्तेफ़ाक़ में नज़र आये थे, जिसमें सिद्धार्थ मल्होत्रा और सोनाक्षी सिन्हा ने मुख्य किरदार निभाये थे। 

 

Posted By: Manoj Vashisth

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस