Move to Jagran APP

Shahrukh Khan: जानें क्यों शाह रुख खान ने बदला था अपना नाम, बन गए थे जीतेंद्र कुमार तुली

Shah Rukh Khan शाह रुख खान (Shah Rukh Khan) ने अपने प्यार यानी गौरी खान के लिए दिल्ली से मुंबई का सफर तय किया था। आज ये कपल बॉलीवुड का सबसे पावर कपल है लेकिन क्या आप जानते हैं कि गौरी से शादी के लिए शाहरुख को काफी संघर्ष करना पड़ा था। उन्होंने उनके लिए अपना नाम भी बदल लिया था।

By Aditi YadavEdited By: Aditi YadavPublished: Thu, 27 Jul 2023 11:28 PM (IST)Updated: Thu, 27 Jul 2023 11:39 PM (IST)
Shah Rukh Khan And Gauri Khan Photo Credit Instagram

 नई दिल्ली, जेएनएन।  Shah Rukh Khan: बॉलीवुड के किंग खान यानी शाह रुख खान (Shah Rukh Khan) पर आज भी लाखों लड़कियां मरती हैं। एक्टर की फीमेल फैन्स काफी ज्यादा है, लेकिन वह सालों पहले अपना दिल गौरी खान पर हार बैठे थे।

सभी जानता है कि इनका ये प्यार बचपन वाला है। कहते है गौरी के लिए शाह रुख खान ने दिल्ली से मुंबई का सफर तय किया था। आज ये कपल बॉलीवुड का सबसे पावर कपल है, लेकिन क्या आप जानते हैं कि गौरी से शादी के लिए शाहरुख को काफी संघर्ष करना पड़ा था। उन्होंने उनके लिए अपना नाम भी बदल लिया था।

जब शाह रुख खान ने गौरी के लिए बदला अपना नाम

अभिनेता ने अपने प्यार की खातिर वो सब किया जो एक सच्चा आशिक करता है। जी हां, उन्होंने गौरी के लिए अपना नाम तक बदल डाला था। जब वह शादी करने वाले थे तब उन्होंने अपना नाम जीतेंद्र कुमार तुली रख लिया था। अब आप सोच रहे होंगे कि ऐसा नहीं हो सकता और अगर हुआ भी तो शाह रुख ने ऐसा क्यों किया। आपको बता दें,  इस नाम को रखने की वजह भी बेहद खास थी।

View this post on Instagram

A post shared by Shah Rukh Khan (@iamsrk)

खास थी नाम बदलने की वजह

दरअसल,  गौरी के साथ अपनी हिंदू शादी के लिए जवान अभिनेता को अपना नाम बदलना पड़ा था। जब वह हिंदू रीति-रिवाजों और परंपरा में गौरी के साथ शादी के बंधन में बंधने वाले थे, तो किंग खान ने अपना मुस्लिम नाम शाह रुख खान बदलकर 'जीतेंद्र कुमार तुल्ली' रखा था। मुश्ताक शेक की किताब के अनुसार शाहरुख ने दोनों सितारों को ट्रिब्यूट देने के लिए यह नाम रखा था।

गौरी खान ने भी बदला था अपना नाम

बता दें, सिर्फ शाहरुख ही नहीं, बल्कि उनकी पत्नी गौरी को भी अपने निकाह समारोह के लिए अपना नाम बदला था। किताब के मुताबिक, शाहरुख से निकाह के लिए उन्होंने अपना नाम गौरी से बदलकर आयशा रख लिया था। यह भी बहुत कम लोग जानते हैं कि इस कपल ने कोर्ट मैरिज भी की थी। यह एक अंतरधार्मिक विवाह था, लेकिन इसको लेकर उनके बीच कभी कोई समस्या नहीं बनी और उन्होंने अपने बच्चों का पालन-पोषण बहुत ही धर्मनिरपेक्ष तरीके से किया है। शाह रुख ने जीतेंद्र नाम क्यों चुना इसका एक और कारण यह था कि उनकी दादी सोचती थी कि वह बॉलीवुड के ओजी 'हिम्मतवाला' से काफी मिला था।

View this post on Instagram

A post shared by Gauri Khan (@gaurikhan)

शादी को लेकर परिवार में हुआ था कलेश

अपनी शादी से पहले, शाहरुख और गौरी को अपने धार्मिक मतभेदों के कारण अपने परिवारों से कई बाधाओं का सामना करना पड़ा। शुरुआत में गौरी की मां शाहरुख के साथ उनकी शादी के बिल्कुल खिलाफ थीं। फर्स्ट लेडीज नाम के एक शो के दौरान गौरी ने बताया कि कैसे उनके परिवार उनकी शादी को लेकर आशंकित थे। गौरी ने कहा, "हम बहुत छोटे थे और तब शादी करने का फैसला एक ऐसे व्यक्ति से करना था जो फिल्मों में आने वाला हो और एक अलग धर्म से हो।"

उन्होंने यह भी खुलासा किया था कि कैसे उनके सुपरस्टार पति ने उनके माता-पिता को यह विश्वास दिलाने के लिए कि वह एक हिंदू लड़का है, अपना नाम शाह रुख से बदलकर अभिनव रख लिया था। गौरी ने कहा था, "हमने उसका नाम बदलकर अभिनव रख दिया ताकि उन्हें (उसके माता-पिता) लगे कि वह एक हिंदू लड़का है, लेकिन यह वास्तव में मूर्खतापूर्ण और बहुत बचकाना था।"


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.