नई दिल्ली, जेएनएन।Kaali Poster Controvery: फिल्म निर्माता धार्मिका भावनाएं आहत करने के आरोप में अक्सर ट्रोल होते रहते हैं। हाल ही में रणबीर कपूर की फिल्म ब्रह्मास्त्र का ट्रेलर लॉन्च हुआ था, जिसके कुछ सीन्स को लेकर सोशल मीडिया पर बवाल मच गया और फिल्म के बायकॉट की मांग उठने लगी। जिसके बाद निर्देशक अयान मुखर्जी ने एक पोस्ट साझा कर सफाई दी थी।

अब ऐसा ही एक मामला सामने आया है, जिसमें काली के मेकर्स की मश्किलें कम होती नहीं दिख रही हैं। दरअसल फिल्ममेकर लीना मणिमेकलई ने अपनी डॉक्यूमेंट्री काली का पोस्टर लॉन्च किया था। इस पोस्टर में मां काली को अपत्तिजनक स्थिति में दिखाया गया है, जिसे लेकर वो लोगों के निशाने पर आ गए।

लोगों ट्विटर पर हिंदू भावनाओं को ठेस पहुंचाने का आरोप लगाते हुए जमकर खरी-खोटी सुना रहे हैं। आपको बता दें, इंडियन फिल्ममेकर लीना ने 2 जुलाई को अपनी डॉक्यूमेंट्री काली का पोस्टर रिलीज किया था।

इस पोस्टर को अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर शेयर करते हुए बताया कि, वो इसे फिल्म को लेकर बहुत ही उत्साहित हैं। क्योंकि उनकी डॉक्यूमेंट्री काली कनाडा फिल्म फेस्टिवल में लॉन्च किया गाया है।

भड़के यूजर्स ने लगाई पीएमओ के गुहार

इस पोस्टर के सोशल मीडिया पर आने के बाद फैंस उन्हें ट्रोल करते हुए तीखी प्रतिक्रिया दे रहे हैं। एक यूजर ने लिखा, ये ईशनिंदा है और हिंदू धार्मिक भावनाओं को आहत करता है। आग खान संग्रहालय इसको तुंरत ही हटाने की जरूरत है।

जबकि दूसरे यूजर ने चेतावनी देते हुए लिखा, किसी और धर्म के साथ ऐसा करने की हिम्मत करो। बस कोशिश करें और उस जगह पर शर्म आती है, जो हिंदू देवी के ऐसे चित्रण का समर्थन कर रहीं हैं। साथ ही उन्होंने कनाड़ा के इंडियन हाई कमीशन को टैग करते हुए विरोध दर्ज कराने को कहा।

वहीं, एक यूजर ने पीएमओ और ग्रह मंत्रालय को टैग करते हुए लिखा, हर दिन हिंदू धर्म का मजाक उड़ाया जाता है। क्या सरकार हमारे धैर्य की परीक्षा ले रही है?

Edited By: Nitin Yadav