Move to Jagran APP

92 साल पहले आई थी देश की पहली हॉरर फिल्म, इस एक्ट्रेस ने निभाया था भूत का किरदार

एंटरटेनमेंट के पैरलल मीडियम बॉलीवुड और रीजनल सिनेमा में भूतिया फिल्में बहुत बनी हैं। ओटीटी पर सुपरनैचुरल शो मौजूद हैं जिनमें डर का लेवल कहानी के अनुसार होता है। हिंदी सिनेमा में कई हॉरर फिल्में रिलीज हो चुकी हैं लेकिन क्या आप जानते हैं कि देश की पहली हॉरर फिल्म कौन सी थी। हम आपको उस अभिनेत्री के बारे में बताएंगे जिसने पर्दे पर पहले भूत का रोल किया था

By Karishma Lalwani Edited By: Karishma Lalwani Mon, 08 Jul 2024 08:33 PM (IST)
बॉलीवुड की पहली हॉरर फिल्म. फोटो क्रेडिट- दैनिक जागरण ग्राफिक्स

एंटरटेनमेंट डेस्क, नई दिल्ली। फिल्म इंडस्ट्री में डरावनी फिल्मों को हमेशा से ऐसे दिखाया गया है, जो लोगों को डराए भी और उनका मनोरंजन भी करे। पिछले कुछ सालों में बॉलीवुड में कई बेहतरीन हॉरर फिल्में रिलीज हुईं, जिन्होंने बॉक्स ऑफिस पर ढेर सारा कैश भी कलेक्ट किया और लोगों के रोंगटे भी खड़े किए।

आज के जमाने में टेक्नोलॉजी का भरपूर इस्तेमाल करते हुए भूतिया फिल्में रिलीज होती हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं बॉलीवुड की पहली हॉरर फिल्म कौन सी थी या यूं कहें कि वह कौन सी अभिनेत्री थी, जिसने सबसे पहले भूत का किरदार निभाया था।

आजादी से पहले रिलीज हुई थी ये हॉरर फिल्म

आज के जमाने में रिलीज होने वाली भूतिया फिल्में कुछ इस तरह की होती हैं कि कोई उसे अकेले देख ही नहीं सकता। मगर एक वक्त ऐसा था, जब हॉरर फिल्मों को इस तरह बनाया जाता था कि उसे कोई भी बिना डरे देख सके। इस सिलसिले में हम आपको हिंदी सिनेमा की पहली भूतिया फिल्म के बारे में बताएंगे, जो देश को मिली आजादी से पहले रिलीज हुई थी। इसका नाम है 'जिंदा लाश।'

(फोटो क्रेडिट- रेडिट)

रतन बाई ने निभाया था भूतनी का किरदार

1932 में रिलीज हुई 'जिंदा लाश' बॉलीवुड की पहली हॉरर फिल्म बताई जाती है। इसमें भूतनी का रोल किया था एक्ट्रेस रतन बाई (Rattan Bai) ने, जिनसे काजोल के परिवार का ताल्लुक है। उस दौर के हिसाब से देखा जाए, तो फिल्म डरावनी लगेगी। लेकिन अगर आज के दौर के हिसाब से देखा जाए, तो ये हॉरर कम और कॉमेडी ज्यादा लगेगी। 

केएल सहगल के साथ बनी थी जोड़ी

फिल्म की कहानी एक राजकुमारी की है, जो आत्मा के वश में आ जाती है। इसके बाद वह जो भी कहती, कहीं भी जाती, उसके आसपास के लोग वहां से डर कर भाग जाते। उस दौर में तकनीक का इस्तेमाल नहीं होता था। ऐसे में ये फिल्म भी बिना किसी खास इफैक्ट के ही बनाई गई। 30 के दशक में रिलीज हुई इस फिल्म के लीड एक्टर थे केएल सहगल , जिनका नाम उस जमाने में हिंदी सिनेमा के सबसे चर्चित गायक में शामिल था।

'जिंदा लाश' केएल सहगल की बतौर अभिनेता दूसरी फिल्म थी। उन्होंने मूवी में गाना भी गाया था। फिल्म के तमाम गानों में 'लागी करेजवा में चोट' सबसे फेमस है। इसे केएल सहगल ने गाया था।

काजोल की परनानी हैं रतन बाई

बॉलीवुड की शुुरुआती अभिनेत्रियों में से एक रतन बाई, शोभना समर्थ की मां थीं। इस लिहाज से वह नूतन और तनुजा की नानी लगीं और काजोल (Kajol) व तनिषा की परनानी हुईं।

यह भी पढ़ें: Horror Films: Munjya से पहले OTT पर देख डालिए साउथ की ये 5 भुतही फिल्में, हनुमान चालीसा पास रखकर ही लें रिस्क