मुंबई। फिल्म पाकीज़ा और रज़िया सुल्तान जैसी फिल्मों में काम कर चुकी गीता कपूर को अस्पताल से छुट्टी मिल गई है और अब उन्हें ओल्ड ऐज होम में शिफ्ट कर दिया गया है।

फिल्मकार अशोक पंडित और रमेश तौरानी ने , जिन्होंने बेटे के भाग जाने के बाद गीता कपूर के अस्पताल में बिल्स का खर्चा वहन किया था , अब गीता कपूर को अँधेरी के जीवन आशा ओल्ड ऐज होम में ले आये हैं। बता दें कि गीता कपूर की हृदयविदारक कहानी तब सामने आई थी जब अपनी बीमार माँ को अस्पताल में भर्ती कराने के बाद गीता कपूर का बेटा बिना बिल चुकाए भाग गया। आरोप है कि बेटा , गीता कपूर को कमरे में बंद कर पीटता था और चार-पांच दिनों में कभी खाना देता था। वह बॉलीवुड में कोरियोग्राफर है। मुंबई में ही गीता की एयर होस्टेस बेटी भी रहती है लेकिन किसी ने मां की सुध नहीं ली। मीडिया में खबरें आने के बाद बॉलीवुड से मदद के हाथ बढ़े। फिल्म निर्माता अशोक पंडित व रमेश तौरानी ने अस्पताल जाकर बिल भरा। रितेश देशमुख ने भी सहायता की पेशकश की। अशोक पंडित ने ट्विटर के जरिये लोगों को बताया है कि गीता अब मुस्कुरा रही हैं और जल्द ही ठीक हो जाएंगी।

इसे भी पढ़ें: 'पाकीजा' की अभिनेत्री के लिए बढ़े मदद के हाथ

इस बीच गीता कपूर का इलाज करने वाले डाक्टर दीपेंद्र त्रिपाठी ने बताया कि गीता को उम्मीद थी कि उनका बेटा उनको लेने वापस आएगा। यह बहुत ही दर्दनाक कहानी है।

Posted By: Manoj Khadilkar