मुंबई। आमिर खान जो भी काम करते हैं वो न सिर्फ़ बेहतरीन होता है बल्कि अनोखा भी। अब जब वो अपनी फिल्म ठग्स ऑफ़ हिंदोस्तान लेकर आ रहे हैं तो इस बार फिल्म की एडिटिंग को लेकर एक ऐसा काम किया जा रहा है जो अब तक कभी नहीं हुआ।

आपको बता दें कि ठग्स ऑफ हिंदोस्तान हिंदी के साथ तमिल और तेलुगु भाषा में भी डब कर रिलीज़ की जायेगी l कहा जा रहा है कि ये भारत की सबसे बड़ी स्क्रीन्स रिलीज़ होगी। फिल्म को 3डी और आईएमएक्स में भी रिलीज़ किया जाएगा l  फिल्म के लिए यशराज ने अपनी एक वीएफएक्स कंपनी भी खोली है।

ये तो आपको पता ही होगा कि विजय कृष्ण आचार्य के निर्देशन में बन रही ये फिल्म बड़े बजट की एक भव्य फिल्म होगी। फिल्म समुद्री डाकुओं की कहानी से जुड़ी है, जिसमें दो जनरेशन की परंपरा को दिखाया गया है। फिल्म में आमिर खान के साथ अमिताभ बच्चन, कटरीना कैफ और फातिमा सना शेख़ अहम् भूमिका में हैं। फिल्म की शूटिंग माल्टा सहित दुनिया के कई जगहों पर हो चुकी है। बताया जा रहा है कि इन दिनों इस फिल्म की एडिटिंग का काम जोर-शोर से चल रहा है। लेकिन जैसा आप सोच रहे होंगे वैसा नहीं। आमतौर पर फिल्मों की एडिटिंग एक कंप्यूटर के मॉनिटर के सहारे की जाती है। बड़े एडिटिंग सेटअप में ये स्क्रीन्स सामान्य से काफ़ी बड़ी होती हैं लेकिन ठग्स ऑफ हिंदोस्तान इससे भी दो कदम आगे है। इस फिल्म को एक प्रीव्यू थियेटर में एडिट किया जा रहा है।

जानकारी के मुताबिक फिल्म के प्रोडक्शन हाउस यशराज फिल्मस ने एडिट करने के लिए अपना प्रीव्यू थियेटर खोल दिया है और उस विशाल स्क्रीन पर देख कर फिल्म के एक एक हिस्से को बड़ी ही बारीकी से एडिट किया जा रहा है। ज़ाहिर है मिस्टर पर्फेशनिस्ट आमिर खान की मौजूदगी में ऐसा तो होगा ही है। बताया जाता है कि बड़ी स्क्रीन पर एडिट करने की योजना फिल्म के हर हिस्से को आसानी से देख कर ढालने के लिए बनाई गई है। बताते हैं कि सहूलियत भरा ये फंडा बॉलीवुड में पहली बार अपनाया गया है।

फिल्म के डायरेक्टर विजय कृष्ण आचार्य ने भी इस ख़बर की पुष्टि की है। उन्होंने बताया है कि नार्मल एडिटिंग मशीन की जगह हम बड़ी स्क्रीन पर देख कर एडिट कर रहे हैं क्योंकि इससे ‘लार्जर देन लाइफ़’ फिल्म बनाने की हमारी योजना पर हम खरे उतर सकेंगे। फिल्म ठग्स ऑफ हिंदोस्तान सात नवंबर को रिलीज़ हो रही है।

कहा जा रहा है कि यशराज फ़िल्म्स की यह अब तक की सबसे बड़ी फ़िल्म है जिसमें एक्शन की भरमार होगी साथ ही साथ ऐसा पहली बार हुआ है जब किसी भारतीय फ़िल्म के लिए दो विशाल जहाज़ का निर्माण किया गया है।इस मेगा एडवेंचर फ़िल्म के लिए 2 लाख किलोग्राम वजन वाले दो बड़े जहाजों का निर्माण किया गया है। इन दो जहाजों को बनाने के लिए 1 साल से अधिक तक का समय लगा और जिसे अंतरराष्ट्रीय डिजाइनर और जहाज बनाने वाले कारीगर सहित 1000 से अधिक लोगों की मदद के साथ पूरा किया गया। फिल्म की शूटिंग माल्टा में ठीक उन्हीं जगहों पर हुई है, जहां गेम ऑफ़ थ्रोंस की शूटिंग हुई थी l

यह भी पढ़ें: DDLJ सीन: शाहरुख़ ने तब खींची क्यों नहीं ट्रेन की चेन, काजोल की अब जली ट्यूबलाइट

Posted By: Manoj Khadilkar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस