नई दिल्ली, जेएनएन। दोपहर 12 बजे दूरदर्शन के डीडी भारती चैनल पर महाभारत का प्रसारण हुआ। यह प्रसारण उन सभी लोगों को यादों के समंदर में ले गया, जो अस्सी के अंत और नब्बे की शुरुआती सालों में मैं समय हूं... सुनकर बड़े हुए। तमाम लोगों ने यादों में डूबते-उतराते हुए बचपन के उस दौर को याद करते हुए सोशल मीडिया में पोस्ट किया है। ऐसी यादों से शनिवार को सोशल मीडिया पट गया। यूज़र्स ने इस एपिक शो को देखते हुए अपनी तस्वीरें भी पोस्ट कीं।

कोरोना वायरस कोविड 19 के प्रसार को रोकने के उद्देश्य से देशभर में 21 दिनों का लॉकडाउन चल रहा है। इस दौरान लोगों के मनोरंजन का ध्यान रखते हुए सरकार ने दूरदर्शन के चैनल्स पर कुछ पुराने ऐतिहासिक शोज़ को फिर से दिखाने का एलान किया, जिनमें एक महाभारत भी है। बीआर चोपड़ा निर्मित इस शो की एक बहुत बड़ी फैन फॉलोइंग है। लगभग 3 दशक बाद भी शो को लेकर लोगों में एक क्रेज़ है। ख़ासकर, वो पीढ़ी आज भी इस शो के लिए इमोशनल है, जो उस वक़्त बचपन की दहलीज़ को लांघकर किशोरवय में क़दम रख रही थी।

यह भी पढ़ें: रामायण-महाभारत के रीटेलीकास्ट से सोशल मीडिया में आयी मीम की बाढ़, नेटफ्लिक्स वाला ग़ज़ब है!

ऐसे लोगों के ज़हन में यह शो कहीं आज भी अटका हुआ है। इसीलिए 30 साल बाद शो का जब डीडी पर दोबारा प्रसारण हुआ तो यादों में गोते लगाना लाज़मी था। यूज़र्स ने टीवी के स्क्रीनशॉट ट्वीट करके अपनी यादों को लिखा है। एक ने लिखा- परिवार के साथ टीवी पर कुछ देखना अब दुर्लभ हो गया है। डीडी का शुक्रिया। हालांकि चैनल ढूंढने में थोड़ा दिक्कत हुई। आरजे सौम के एकाउंट से ट्वीट किया गया है कि मैं समय हूं... आवाज़ को दोबारा सुनना शानदार है।

दिलचस्प बात यह है कि महाभारत को वो लोग भी देख रहे हैं, जो हिंदी बेल्ट से नहीं हैं। ऐसे एक यूज़र ने लिखा है कि मेरी बेटी मेरे लिए ट्रांसलेट कर रही है। एक यूज़र ने पूरे परिवार के साथ शो देखते हुए तस्वीर डाली है।

यह भी पढ़ें: कोरोना वायरस लॉकडाउन में सरकार ने अनिवार्य किये दूरदर्शन के चैनल, जानिए वजह

Posted By: Manoj Vashisth

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस