आगरा (जेएनएन)। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को यहां कहा कि कुछ लोगों ने देश की पूरी अर्थव्यवस्था को लूट लिया। अब यह नहीं चलेगा। बड़े नोटों की बंदी के बाद मुश्किलों की खबरों को देखते हुए उन्होंने मध्यम वर्ग को बार-बार लुभाया। कहा कि ऐसे लोगों ने परेशानी उठाकर जो तप किया है, वह बेकार नहीं जाएगा। इससे देश सोना की तरह तपकर निकलेगा। उन्होंने जनता की नब्ज छूते हुए कहा कि अब स्कूलों में प्रवेश में होने वाली गड़बडिय़ों को भी बंद किया जाएगा। प्रधानमंत्री ने माया-ममता और कांग्र्रेस पर अप्रत्यक्ष प्रहार किए लेकिन सपा के लिए एक शब्द भी नहीं बोला।

प्रधानमंत्री यहां कोठी मीनाबाजार मैदान में भाजपा की महापरिवर्तन रैली को संबोधित कर रहे थे। करीब एक लाख की भीड़ से यह खचाखच भरा था। प्रधानमंत्री ने कहा कि नोटबंदी से देश के गरीब, नौकरीपेशा और मध्यम वर्ग ने सबसे ज्यादा कष्ट उठाया है, इसके बाद भी उफ तक नहीं की। यह वह लोग हैं, जिन पर काला धन नहीं। कहा कि गरीब, दलितों, मध्यम वर्ग और आदिवासियों ने जो कष्ट उठाया, वह बेकार नहीं जाएगा। इनके तप से देश सोना बनकर निकलेगा। प्रधानमंत्री ने कहा कि उन्होंने आठ नवंबर को ही देश की जनता को बता दिया था कि 50 दिन का समय चाहिए। फिर भी इस दौरान जनता की मुश्किल देखते हुए हम कई बार लचीले हुए।

यह भी पढ़ें- नोटबंदी: किसानों के हित में जल्द ही बड़ा फैसला लेंगे PM नरेंद्र मोदी'

स्कूलों की डोनेशन पर प्रधानमंत्री ने कहा कि इस लूट को भी सरकार खत्म करके रहेगी। आज स्कूलों में गरीबों और मध्यम वर्ग के लोग अपने बच्चों को प्रवेश दिलाने जाते हैं, तो पैसे मांगे जाते हैं। वह नहीं होते तो उनके बच्चों को प्रवेश नहीं मिलता। अब यह व्यवस्था नहीं चल सकेगी, इसके लिए सरकार उपाय करने जा रही है। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि कुछ लोग 70 साल से पूरी अर्थव्यवस्था को लूटते रहे। जनता का पैसा लेकर अपना कारोबार चलाया।

माया पर प्रहार कर मोदी ने कहा कि कुछ लोगों का सब कुछ लुटा। वहां कहा जाता था इतने करोड़ में एमएलए बनोगे। ऐसे लोगों का सब लुट गया। नोट वापस हो गए। यह व्यवस्था अब बंद हो जाएगी।

यह भी पढ़ें- सूरजकुंड में बोले पीएम मोदी, शताब्दी बदली है तो रेल भी बदलनी चाहिए

नोटबंदी का विरोध कर रहीं ममता बनर्जी पर अप्रत्यक्ष प्रहार करते हुए कहा कि वह लोग विरोध कर रहे हैं, जिन्होंने जनता के पैसे को चिटफंड में लगवा दिया। कहा कि नोट बंदी के फैसले से नगर निकायों को बहुत फायदा हुआ है। जो पैसे वाले टैक्स नहीं दे रहे थे, वह लाइन में लगे हुए हैं। बारह दिन में ही सैकड़ों करोड़ रुपया जमा हो चुका है। यही नहीं बैंकों में भी बहुत पैसा आया है। पिछले 12 दिन में पांच लाख करोड़ रुपये आ चुके हैं।

बैंक छोटे लोगों को देंगे कर्ज

प्रधानमंत्री ने कहा कि देश में गरीबों को हक नहीं मिलता। अब यह नहीं होगा। अब जब बैंक वालों के पास पांच लाख करोड़ रुपये जमा हो गए हैं, तो वह यह डिब्बे में नहीं रखेंगे। सैलून खोलने, छोटे काम वालों को कर्ज देंगे।

प्रधानमंत्री ने कहा कि ड्रग्स का सारा काम नकद में चलता है। नोट बंदी से ड्रग्स कारोबार को झटका लगा है, जो आतंकवाद को पोषित करता है। उन्होंने कहा कि आतंकवाद के चलते अब हम और जवानों की शहादत नहीं देख सकते थे। इसलिए ऐसे कदम उठाने की जरूरत थी।

देखें तस्वीरें : आगरा में पीएम मोदी की परिवर्तन रैली

अपने खाते में न डालने दें किसी को रुपया

प्रधानमंत्री ने कहा कि नोटबंदी लागू करते वक्त ही मैंने जनता से पचास दिन मांगे थे। सुधार के लिए आपको थोड़ा कष्ट सहन करना होगा। उन्होंने जनधन के खातों में कालाधन डालने की खबरों पर कहा कि किसी को अपने खाते में ढाई लाख न डालने दें। नहीं तो कानून बहुत सख्त है। ऐसे 500 और 1000 के नोटों से दूर रहें।

Posted By: Nawal Mishra

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप