Move to Jagran APP

आखिरी रण में PM मोदी और उनके 5 मंत्री; शिबू सोरेन की बहू, लालू की बेटी और वीरभद्र के बेटे समेत दांव पर इन दिग्‍गजों की प्रतिष्‍ठा

Lok Sabha Election 2024 आखिरी चरण का लोकसभा चुनाव दिलचस्प होगा। पूर्व मुख्यमंत्री केंद्रीय मंत्रियों समेत कई दिग्गजों की प्रतिष्ठा इस चरण में दांव पर लगी है। बिहार की काराकाट सीट से भोजपुरी स्टार पवन सिंह निर्दलीय चुनाव मैदान में उतरे हैं। गोरखपुर से रविकिशन और मंडी सीट से कंगना रनौत अपनी किस्मत आजमा रहीं हैं। जालंधर से पूर्व सीएम चन्नी चुनाव में उतरे हैं।

By Ajay Kumar Edited By: Ajay Kumar Mon, 27 May 2024 07:26 PM (IST)
आखिरी रण में PM मोदी और उनके 5 मंत्री; शिबू सोरेन की बहू, लालू की बेटी और वीरभद्र के बेटे समेत दांव पर इन दिग्‍गजों की प्रतिष्‍ठा
लोकसभा चुनाव 2024: सातवें चरण की हाई-प्रोफाइल सीटें।

चुनाव डेस्क, नई दिल्ली। सातवें यानी अंतिम चरण में सात राज्यों और एक केंद्र शासित प्रदेश की कुल 57 लोकसभा सीटों पर एक जून को मतदान है। इस चरण में हिमाचल की मंडी से बिहार की काराकाट लोकसभा सीट तक मुकाबला हाई-प्रोफाइल है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी वाराणसी से तीसरी बार चुनाव मैदान में हैं। पंजाब में पूर्व मुख्यमंत्री की प्रतिष्ठा जालंधर सीट पर लगी है। वहीं पांच केंद्रीय मंत्रियों की परीक्षा है। पूर्व मुख्यमंत्रियों के बेटा-बेटी और बहू इसी चरण में मैदान में हैं।

यह भी पढ़ें: एससी-एसटी आरक्षित सीटों पर सबकी निगाहें, 2019 में भाजपा का रहा दबदबा; जानें किसके पास कितने सीटें

वाराणसी लोकसभा सीट

उत्तर प्रदेश की वाराणसी लोकसभा सीट से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तीसरी बार चुनाव मैदान में हैं। कांग्रेस ने उनके खिलाफ अजय राय को उतारा है। बसपा ने अतहर जमाल लारी को टिकट दिया है। इस सीट पर दो निर्दलीय समेत कुल सात प्रत्याशी चुनावी मुकाबले में हैं। पिछले दो चुनाव में पीएम मोदी ने प्रचंड जीत दर्ज की थी।

हमीरपुर लोकसभा सीट

हिमाचल प्रदेश की हमीरपुर लोकसभा सीट से केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर लगातार तीन बार लोकसभा का चुनाव जीत चुके हैं। इस बार वे चौथी बार मैदान में हैं। कांग्रेस ने उनके खिलाफ सतपाल रायजादा को उतारा है। इस सीट पर पांच निर्दलीय समेत कुल 12 प्रत्याशी हैं।

महराजगंज लोकसभा सीट

उत्तर प्रदेश की महराजगंज लोकसभा सीट से केंद्रीय मंत्री पंकज चौधरी मैदान में हैं। उनके खिलाफ बसपा ने मौसमे आलम को टिकट दिया है। कांग्रेस से वीरेंद्र चौधरी चुनाव मैदान में हैं। तीन निर्दलीय समेत कुल आठ प्रत्याशी चुनाव लड़ रहे हैं।

मिर्जापुर लोकसभा सीट

उत्तर प्रदेश की मिर्जापुर लोकसभा सीट से केंद्रीय मंत्री और अपना दल (सोनेलाल) की नेता अनुप्रिया पटेल तीसरी बार चुनाव लड़ रही हैं। बसपा ने मनीष कुमार और सपा ने रमेश चंद बिंद को उतारा है। यहां के चुनावी मुकाबले में दो निर्दलीय समेत कुल 10 प्रत्याशी हैं।

चंदौली लोकसभा सीट

उत्तर प्रदेश की चंदौली लोकसभा सीट पर केंद्रीय मंत्री महेंद्रनाथ पांडेय की प्रतिष्ठा दांव पर लगी है। सपा से पूर्व मंत्री बीरेंद्र सिंह और बसपा के सत्येंद्र कुमार मौर्य से उनका मुकाबला है। इस सीट पर एक निर्दलीय समेत कुल 10 प्रत्याशी अपनी किस्मत आजमा रहे हैं।

आरा लोकसभा सीट

बिहार की आरा लोकसभा सीट से केंद्रीय मंत्री आरके सिंह तीसरी बार चुनाव लड़ रहे हैं। बसपा से लाल बादशाह सिंह ताल ठोक रहे हैं। कम्युनिस्ट पार्टी ऑफ इंडिया (एमएल) ने सुदामा प्रसाद पर दांव खेला है। पांच निर्दलीय समेत कुल 14 प्रत्याशी चुनावी मुकाबले में हैं।

दुमका लोकसभा सीट

झारखंड की दुमका लोकसभा सीट पर भाजपा ने बड़ा दांव खेला है। यहां शिबू सोरेन की बड़ी बहू सीता सोरेन को उतारा है। झारखंड मुक्ति मोर्चा से नलिन सोरेन और बसपा से परेश मरांडी चुनावी मुकाबले में हैं। 10 निर्दलीय समेत कुल 19 प्रत्याशी अपनी किस्मत आजमा रहे हैं।

अमृतसर लोकसभा सीट

पंजाब की अमृतसर लोकसभा सीट से भाजपा ने अमेरिका में राजदूत रहे तरनजीत सिंह संधू को उतारा है। आप से भगवंत मान सरकार में मंत्री कुलदीप सिंह धालीवाल मैदान में हैं। शिरोमणि अकाली दल ने अनिल जोशी और कांग्रेस से मौजूदा सांसद गुरजीत सिंह औजला चुनाव लड़ रहे हैं। 18 निर्दलीय समेत कुल 30 प्रत्याशी चुनावी मुकाबले में हैं।

जालंधर लोकसभा सीट

पंजाब की जालंधर लोकसभ सीट पर मुकाबला हाई-प्रोफाइल है। यहां से पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी कांग्रेस की टिकट पर चुनाव मैदान में हैं। भाजपा ने सुशील कुमार रिंकू को उतारा है। रिंकू मौजूदा सांसद हैं और आप की टिकट पर चुनाव जीता था। आप ने पवन कुमार टीनू को प्रत्याशी बनाया है। बसपा से बलविंदर कुमार और शिरोमणि अकाली दल से मोहिंदर सिंह केपी चुनाव लड़ रहे हैं। यहां सात निर्दलीय समेत कुल 20 प्रत्याशी मैदान में हैं।

लुधियाना लोकसभा सीट

लुधियाना लोकसभा सीट पर भाजपा की टिकट पर मौजूदा सांसद रवनीत सिंह बिट्टू चुनाव मैदान में हैं। कांग्रेस से प्रदेश अध्यक्ष अमरिंदर सिंह राजा वड़िंग चुनाव लड़ रहे हैं। आप ने अशोक पराशर और शिअद ने रणजीत सिंह ढिल्लों को टिकट दिया है। 26 निर्दलीय समेत कुल 43 प्रत्याशी चुनाव मैदान में हैं।

बठिंडा लोकसभा सीट

बठिंडा लोकसभा सीट से लगातार तीन बार लोकसभा चुनाव जीत चुकीं हरसिमरत कौर बादल चौथी बार चुनाव मैदान में हैं। आप ने मंत्री गुरप्रीत सिंह खुड्डिया को टिकट दिया है। कांग्रेस ने जीत मोहिंदर सिंह सिद्धू और भाजपा ने पूर्व आईएएस अधिकारी परमपाल कौर सिद्धू को उतारा है। आठ निर्दलीय समेत कुल 18 प्रत्याशी चुनावी मुकाबले में हैं।

पटियाला लोकसभा सीट

पटियाला की मौजूदा सांसद परनीत कौर इस बार भाजपा की टिकट पर चुनाव लड़ रही हैं। वे पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह की पत्नी हैं। आम आदमी पार्टी ने मंत्री बलबीर सिंह को उनके खिलाफ उतारा है। कांग्रेस से धर्मवीर गांधी और शिअद से एनके शर्मा चुनाव मैदान में हैं। 15 निर्दलीय समेत कुल 26 प्रत्याशी हैं।

मंडी लोकसभा सीट

हिमाचल प्रदेश की मंडी लोकसभा सीट पर मुकाबला रोचक है। भाजपा की टिकट पर फिल्म अभिनेत्री कंगना रनौत पहली बार चुनाव लड़ रही हैं। कांग्रेस से हिमाचल सरकार में मंत्री और पूर्व सीएम वीरभद्र सिंह के बेटे विक्रमादित्य सिंह उनके सामने हैं। इस सीट पर चार निर्दलीय समेत कुल 10 प्रत्याशी हैं।

काराकाट लोकसभा सीट

बिहार की काराकाट लोकसभा सीट से भोजपुरी स्टार पवन सिंह ने निर्दलीय चुनाव में उतरकर मुकाबले को दिलचस्प बना दिया है। राष्ट्रीय लोक मोर्चा से उपेंद्र कुशवाहा और कम्युनिस्ट पार्टी ऑफ इंडिया (एमएल) से राजा राम सिंह चुनाव लड़ रहे हैं। बसपा से धीरज कुमार सिंह पर भरोसा जताया है। यहां तीन निर्दलीय समेत कुल 13 प्रत्याशी हैं।

गोरखपुर लोकसभा सीट

गोरखपुर लोकसभा सीट से मौजूदा सांसद और भोजपुरी अभिनेता रविकिशन भाजपा की टिकट पर चुनाव मैदान में हैं। सपा ने काजल निषाद को टिकट दिया है। बसपा से जावेद अशरफ अपनी किस्मत आजमा रहे हैं। गोरखपुर में चार निर्दलीय समेत कुल 13 प्रत्याशी चुनाव लड़ रहे हैं।

यह भी पढ़ें: घट रहा निर्दलियों का दबदबा, 1957 में 42 तो 2019 में सिर्फ चार ही जीते, देखें 1952 से अब तक के आंकड़े