नई दिल्‍ली [जागरण स्‍पेशल]। General elections 2019 Resultइस बार 723 महिला उम्‍मीदवार चुनावी मैदान में थीं, जिनमें से 76 संसद पहुंची हैं। आजाद भारत के लोकतंत्रीय इतिहास में भागीदारी के लिहाज से और अब तक आम चुनावों में महिलाओं को मिली जीत के लिहाज से यह अब तक का सबसे ज्‍यादा आंकड़ा है। इन 76 विजयी महिला उम्‍मीदवारों में से 28 दोबारा चुनाव जीतकर पहुंची हैं। साल 2014 के लोकसभा चुनाव की तुलना में यह संख्‍या (76) ज्‍यादा है। पिछले आम चुनावों में कुल 663 महिलाओं ने चुनाव लड़ा था, जिनमें से 66 महिलाएं संसद पहुंची थीं। 

यूपी से 10 महिलाएं पहुंची संसद
संसद में इस बार 10 महिलाएं उत्‍तर प्रदेश से चुनी गई हैं। इनमें से भाजपा के टिकट पर आठ महिलाओं ने चुनाव जीता है। साल 2014 के लोकसभा चुनाव में उत्‍तर प्रदेश से 13 महिला सांसद चुनी गई थीं। पूर्वांचल से छह जबकि अवध क्षेत्र से दो महिलाओं ने चुनाव जीता है। बुंदेलखंड से एक भी महिला नहीं सांसद नहीं चुनी गई है। इन सबमें स्‍मृति इरानी की जीत बेहद खास है। स्‍मृति ने अमेठी लोकसभा क्षेत्र से कांग्रेस अध्‍यक्ष राहुल गांधी को शिकस्‍त दी है।

आठ महिलाएं करेंगी महाराष्‍ट्र का प्रतिनिधित्‍व
इस बार महाराष्ट्र से आठ महिलाएं संसद पहुंची हैं। इनमें से छह महिलाएं भाजपा के टिकट पर चुनाव जीता है। पिछली बार 2014 के लोकसभा चुनाव में यहां से छह महिला सांसद चुनी गई थीं। इस बार इनकी संख्या में 33 फीसदी का इजाफा हुआ है। मुंबई उत्तर मध्य लोकसभा सीट से दिवंगत भाजपा नेता प्रमोद महाजन की पुत्री पूनम महाजन विजयी हुई हैं। वहीं बीड लोकसभा सीट से दिवंगत भाजपा नेता प्रीतम मुंडे ने चुनाव जीता है। एनसीपी की सुप्रिया सुले तीसरी बार बारामती से चुनाव जीती हैं।

बिहार से तीन और बंगाल से नौ महिलाएं जीतीं
मौजूदा लोकसभा चुनावों में बिहार से तीन जबकि पश्चिम बंगाल से नौ महिलाओं ने चुनाव जीता है। बिहार से सभी तीनों महिलाओं ने भाजपा के टिकट पर चुनाव जीता है। वहीं पश्चिम बंगाल में दो महिलाओं ने भाजपा के टिकट पर चुनाव जीता है। गुजरात से पांच जबकि मध्‍य प्रदेश से चार महिलाओं ने चुनाव जीता है। मध्‍य प्रदेश में चारों महिलाएं भाजपा के टिकट पर चुनाव जीता है। इनमें भोपाल से साध्‍वी प्रज्ञा ने कांग्रेस के वरिष्‍ठ नेता एवं पूर्व मुख्‍यमंत्री दिग्विजय सिंह को शिकस्‍त दी है।

सबसे ज्‍यादा महिलाएं भाजपा के टिकट पर
मौजूदा लोकसभा चुनाव में भाजपा ने 53 और कांग्रेस ने 54 महिलाओं को टिकट दिया था। अब नई लोकसभा में सबसे ज्‍यादा 38 महिला सांसद भाजपा की होंगी। वहीं कांग्रेस के टिकट पर छह महिला प्रत्‍याशियों ने जीत दर्ज की है। इस बार तृणमूल कांग्रेस ने 41% और बीजू जनता दल ने 33 फीसद महिलाओं को टिकट दिया था। तृणमूल से नौ जबकी बीजद से पांच महिला सांसद नई लोकसभा में पहुंचेंगी।

पुरुषों से ज्‍यादा की वोटिंग
इस लोकसभा चुनाव में महिलाओं ने पुरुषों से ज्‍यादा वोटिंग की है। देश के 13 राज्यों में से 11 में पिछली बार 2014 में महिलाओं का मतदान प्रतिशत ज्यादा रहा था। इस बार जिन 13 राज्यों और केन्द्र शासित प्रदेशों में महिलाओं का मतदान प्रतिशत ज्यादा रहा है उनमें बिहार, उत्तराखंड, मणिपुर, मेघालय, गोवा, अरुणाचल प्रदेश, मिजोरम, केरल, आंध्र प्रदेश, तमिलनाडु, पुड्डूचेरी, दमन दीव, लक्षद्वीप हैं। मध्य प्रदेश मे महिलाओं का मतदान प्रतिशत 68.46 फीसद था जो कि पिछले लोकसभा चुनाव से 12 फीसद ज्यादा है।  

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Krishna Bihari Singh