रुड़की, जेएनएन। हमेशा चर्चाओं में रहने वाले खानपुर विधायक कुंवर प्रणव सिंह चैंपियन ने इस बार पूर्व सीएम हरीश रावत के अलावा अपनी ही पार्टी के सांसद डॉ. रमेश पोखरियाल निशंक के खिलाफ भी मोर्चा खोल दिया है। उन्होंने दोनों को प्रवासी पक्षी बताते हुए कहा कि हरिद्वार की जनता इस बार स्थानीय प्रत्याशी की मांग की।

सांसद डॉ. रमेश पोखरियाल निशंक के विकास कार्यों पर सवाल उठाते हुए उन्होंने कहा कि पांच साल तक वह जनता के बीच में नहीं रहे, अब एन वक्त पर शिलान्यास कर वह विकास का झूठा दावा कर रहे हैं। अब किए गए शिलान्यास कब धरातल पर आएंगे, सहज ही अनुमान लगाया जा सकता है। 

सोमवार को कैंप कार्यालय पर आयोजित पत्रकार वार्ता के दौरान खानपुर विधायक कुंवर प्रणव सिंह चैंपियन ने अपनी पत्नी रानी देवयानी सिंह के लिए टिकट की मांग की है। उन्होंने कहा कि उनकी पत्नी लगातार काम कर रही है और सुशिक्षित है। उन्होंने कहा कि हरिद्वार जिले से जो भी सांसद बने यह स्थानीय नहीं है। उन्होंने कहा कि इस बार स्थानीय प्रत्याशी की मांग की जा रही है। इसलिए उनकी प्रबल दावेदार है। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार की ओर से तमाम योजनाएं संचालित की जा रही है। 

ऐसे में पढ़ा-लिखा और बात करने वाला सांसद हो तो तमाम योजनाएं ला सकता है। उन्होंने कहा कि पांच साल तक लोगों के सुख-दुख में सांसद दिखाई नहीं दिए। अब पांच सप्ताह में उन्होंने करोड़ों रुपये के विकास कार्यों का शिलान्यास किया है। ऐसे में सवाल यह  उठता है कि क्या इन विकास कार्यों के आर्डर हुए है क्या टेंडर जारी हो चुके हैं। आगे क्या होगा, सब भविष्य के गर्भ में है।

विकास कार्य पांच साल से होने चाहिए थे। एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि यदि गठबंधन का प्रत्याशी आता है तो निशंक चुनाव नहीं जीत सकते हैं। उन्होंने दावा किया कि उनकी पत्नी ही चुनाव में हरीश रावत को हरा सकती है। 

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड से महासमर का आगाज, 11 अप्रैल को होगा मतदान

यह भी पढ़ें: लोकसभा चुनाव 2019: उत्तराखंड में बनाए गए हैं 11235 मतदान केंद्र

Posted By: Sunil Negi

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस