अमेठी, जेएनएन। अपने पुराने संसदीय क्षेत्र अमेठी से चौथी बार नामांकन पत्र दाखिल करने के बाद कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने राफेल प्रकरण पर सुप्रीम कोर्ट के आदेश को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को घेरा। उन्होंने कहा कि सुप्रीम कोर्ट ने भी मान लिया कि चौकीदार ने ही चोरी करवाई है। राफेल सौदे में दो लोगों ने ही भ्रष्टाचार किया है-एक नरेंद्र मोदी और दूसरे अनिल अंबानी। राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री को खुली बहस करने की चुनौती भी दी। 

बुधवार को सपरिवार नामांकन कराने आये राहुल पर्चा दाखिल करने के बाद काफी उत्साहित दिखे। खुले ट्रक में बने मंच पर राहुल गांधी के साथ बहन प्रियंका वाड्रा व बहनोई राबर्ट वाड्रा के अलावा भांजा रेहान और भांजी मिराया भी भीड़ का अभिवादन स्वीकार कर रही थीं। लाल साड़ी पहने प्रियंका कभी हाथ हिलाकर और कभी हाथ जोड़ कर जनता का आभार जता रही थीं। वह बरसाए गए फूलों को वापस भीड़ पर फेंक कर उत्साह भी बढ़ा रही थीं। उनके पति राबर्ट वाड्रा व दोनों बच्चे भी स्वागत से अभिभूत दिखे।

सोनिया गांधी जुलूस में शामिल न होकर सीधे कलेक्ट्रेट पहुंची थींं। राफेल मुद्दे पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले को अपनी विजय बताते हुए राहुल ने कहा कि वह महीनों से कह रहे हैं 'राफेल सौदे में खुल्लम-खुल्ला भ्रष्टाचार हुआ। देश के प्रधानमंत्री ने एयरफोर्स का पैसा चोरी करके तीस हजार करोड़ रुपये अनिल अंबानी को दिए। खुशी है कि सुप्रीम कोर्ट ने मेरी बात को स्वीकारा और राफेल मामले की जांच कराने पर सहमति भी जतायी है। आज बहुत खुशी का दिन है। भाइयों-बहनों, इस मामले की निष्पक्ष जांच होगी तो दो नाम सामने आएंगे, एक नरेंद्र मोदी जी और दूसरा अनिल अंबानी जी का।'

उत्साहित राहुल यहीं नहीं ठहरे। मोदी को खुली चुनौती देते हुए उन्होंने कहा, 'देश राफेल और भ्रष्टाचार के मामलों मेें सच्चाई जानना चाहता है। नोटबंदी और अमित शाह के पुत्र के बारे में जानना चाहता है। पीएम नरेंद्र मोदी ने अभी टीवी इंटरव्यू में कहा है कि राफेल मामले में उन्हें क्लीन चिट मिल गई लेकिन, आज सुप्रीम कोर्ट ने साफ कर दिया। कोर्ट ने माना कि चौकीदार ने चोरी की है। नरेंद्र मोदी जी मेरे सामने आइये, मिलकर भ्रष्टाचार पर, प्यार से 15 मिनट की खुली बहस हो जाए।' कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि प्रधानमंत्री जहां चाहेंगे वह वहां भ्रष्टाचार पर खुली बहस करने को तैयार है। उनका कहना था कि प्रधानमंत्री बहस से बच रहे हैं क्योंकि वह जानते है कि 15 मिनट बहस के बाद चौकीदार देश से आंख मिलाने के लायक नहीं रहेंगे।

तीन किलोमीटर लंबे जुलूस पर बरस रही थीं गुलाब की पंखुड़ियां

करीब 36 डिग्री सेल्सियस तापमान वाली भीषण गर्मी में पसीने से तरबतर कांग्रेस कार्यकर्ताओं का जोश देखते ही बन रहा था। गौरीगंज में स्टेट बैंक के पास से आरंभ हुए लगभग तीन किलोमीटर लंबे जुलूस का गुलाब की पंखुडिय़ां बरसा कर स्वागत किया गया। चौकीदार चोर है, जैसे नारे लगा रही भीड़ में महिलाओं की संख्या अच्छी खासी थी। तिरंगे झंडे व झंडियों से पूरे बाजार को सजाया गया था। राहुल का नामांकन कराने के लिए कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव व पश्चिमी जिलों के प्रभारी ज्योतिरादित्य सिंधिया, सांसद पीएल पुनिया, प्रमोद तिवारी, संजय सिंह, दीपक सिंह व अमिता सिंह जैसे कई प्रमुख नेता भी पहुंचे। 

ये भी पढ़ें- Loksabha Election 2019 : पांचवें चरण के चुनाव के लिए आज से शुरू होंगे नामांकन, छह मई को मतदान

'चौकीदार चोर है' नारों के बीच मोबाइल फोन की चोरी

हमारा पीएम कैसा हो, राहुल गांधी जैसा हो, तख्त बदल दो ताज बदल दो, बेईमानों का राज बदल दो जैसे नारे भी जुलूस में खूब गूंजे। परंपरागत वाद्य यंत्र बजाकर अपने नेता का स्वागत करते ग्रामीणों का कहना था कि गांधी परिवार से ही अमेठी की पहचान है। ग्राम पचेंडी के 70 वर्षीय किसान रामकरन यादव का कहना है कि वह गांधी परिवार के सभी सदस्यों के नामांकन जुलूस में आते रहे हैं लेकिन, इस बार कार्यकर्ताओं में उत्साह अधिक है। चौकीदार चोर है नारों के बीच मोबाइल फोन चोरी की कई घटनाएं हुईं। 

वायनाड में होगी ऐतिहासिक जीत

राहुल गांधी ने केरल की वायनाड सीट से भी पर्चा भरा है। वायनाड से भी कई नेता अमेठी पहुंचे थे। कालपेट्टा से आए जिला कांग्रेस कमेटी के उपाध्यक्ष बाबू मोहन कृष्णन का कहना था 'वायनाड में राहुल गांधी की जीत ऐतिहासिक होगी। राहुल गांधी के फैसले से दक्षिण भारत में जबर्दस्त उत्साह है।' राहुल के रोड शो में पाकिस्तान के झंडे लहराने के दुष्प्रचार को भाजपा व राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ की साजिश बताते हुए उन्होंने कहा कि केवल कांग्रेस ही देश तोडऩे वाली ताकतों को मुंहतोड़ जवाब दे सकती है।

न्याय के लिए लडऩे का हौसला देती है अमेठी की मिट्टी

बुधवार को अमेठी सीट से चौथी बार नामांकन करने के दौरान स्थानीय जनता से मिले समर्थन के प्रति कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने आभार जताया है। नामांकन के बाद राहुल ने अपने ट्विटर अकाउंट पर लिखा कि 'अमेठी और यहां के लोगों से प्यार और सम्मान का वर्षों पुराना रिश्ता है। यहां की मिट्टी में अलग जज्बा है, जो न्याय के लिए लड़ने का हौसला देती है। इस प्यार और समर्थन के लिए आप सभी का धन्यवाद'। उल्लेखनीय है कि राहुल के नामांकन में उनकी मां सोनिया गांधी, बहन प्रियंका वाड्रा, उनके पति राबर्ट वाड्रा और प्रियंका के दोनों बच्चे भी आये थे।

चुनाव की विस्तृत जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें

Posted By: Umesh Tiwari

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप