बदायूं, जेएनएन। समाजवादी पार्टी के सांसद तथा लोकसभा चुनाव 2019 में बदायूं से पार्टी के प्रत्याशी धर्मेंद्र यादव की शिकायत पर योगी आदित्यनाथ के मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य के घर पर आज सिटी मजिस्ट्रेट केके अवस्थी के नेतृत्व में पुलिस ने छापा मारा है। धर्मेंद्र यादव का आरोप है कि बदायूं में उनके घर पर अराजक तत्व छुपे हैं।

धर्मेंद्र यादव ने सवाल भी पूछा कि आखिर किस हैसियत से स्वामी प्रसाद मौर्या जिले में मौजूद हैं। उन्होंने कहा कि वह अपनी बेटी संघप्रिया गौतम की खातिर चुनाव प्रभावित कर रहे हैं। सीओ सिटी राघवेंद्र सिंह राठौर एवं सिटी मजिस्ट्रेट ने संयुक्त रूप से पुलिस बल के साथ छापामारी की, लेकिन स्वामी प्रसाद मौर्य अपने आवास पर नहीं मिले। इसके अलावा सीओ सिटी और सिटी मजिस्ट्रेट ने शहर के कई होटलों में छापामारी की जिससे अफरातफरी का माहौल रहा। 

बदायूं में स्वामी प्रसाद मौर्य के आवास विकास कालोनी के आवास में बाहरी लोगों के रुके होने की सूचना पर पुलिस ने छापामारी की। इसी आवास में भाजपा प्रत्याशी संघमित्रा भी रहती हैं। पिता कैबिनेट मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य के रुके होने की बात सपा प्रत्याशी सांसद धर्मेंद्र यादव ने मीडिया से की थी। भाजपा प्रत्याशी संघमित्रा मौर्य के पिता स्वामी प्रसाद मौर्य किराये के घर पर रह रहे हैं।

सीओ सिटी और सिटी मजिस्ट्रेट ने छापेमारी की है। बदायूं से सपा उम्मीदवार धर्मेंद्र यादव ने भाजपा प्रत्याशी संघमित्रा मौर्या के पिता मंत्री स्वामी प्रसाद की चुनाव आयोग से शिकायत की है। आरोप है हूटर लगी गाड़ियों में स्वामी प्रसाद विधानसभा सहसवान में घूमकर मतदाताओं को प्रभावित कर रहे हैं। जिसका संज्ञान लेकर आयोग की टीम ने स्वामी प्रसाद के आवास पर छापेमारी की है।

इसी वजह से पुलिस पहुंची थी। जब पुलिस ने छापा मारा तो उस समय आवास में स्वामी प्रसाद मौर्य नहीं थे। उनकी गाड़ी जरूर आवास पर खड़ी थी। आवास में कोई अन्य भी नही मिला। फिलहाल पुलिस की एक टीम को वहां पर तैनात कर दिया गया है। सीओ सिटी राघवेंद्र सिंह ने बताया कि सूचना मिली थी, इसलिए सिटी मजिस्ट्रेट के साथ छापामारी करने गए थे। हालांकि सूचना झूठी निकली। वहां कोई नहीं मिला।

चुनाव की विस्तृत जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें

Posted By: Dharmendra Pandey