Move to Jagran APP
Jagran Dialogues

'विदिशा से खिलेगा सुंदर कमल.. यहां से आत्‍मा का रिश्‍ता', BJP की जीत और कांग्रेस की सीट पर शिवराज का बेबाक जवाब

Lok Sabha Election 2024 मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान इस बार विदिशा लोकसभा सीट से मैदान में हैं। उन्होंने विशेष साक्षात्कार में कांग्रेस पर निशाना साधा। वहीं पार्टी के आंतरिक मतभेद पर खुलकर बात की। चौहान ने कांग्रेस पार्टी को टाइटैनिक जहाज बताया। शिवराज सिंह चौहान ने कई सवालों पर खुलकर जवाब दिया। पढ़ें उनका पूरा इंटरव्यू...

By dhananjay singhEdited By: Ajay Kumar Published: Tue, 02 Apr 2024 07:54 PM (IST)Updated: Tue, 02 Apr 2024 09:33 PM (IST)
Lok Sabha Chunav 2024: शिवराज सिंह चौहान का विशेष इंटरव्यू।

धनंजय प्रताप सिंह, भोपाल। मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह (Shivraj Singh Chouhan) चौहान ने विशेष साक्षात्कार में कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कांग्रेस को टाइटैनिक जहाज बताया और कहा कि इसमें कोई सवार नहीं होना चाहेगा। चौहान के मुताबिक कांग्रेस के पतन का कारण राहुल गांधी के अनुचित फैसले और राजशाहीपूर्ण व्यवहार है। कांग्रेस अब पतन की ओर है।

loksabha election banner

उन्होंने कहा कि गांधी परिवार के पास अपनी ही पार्टी के बड़े नेताओं से मिलने का समय नहीं होता। इन्होंने प्रधानमंत्री रहे मनमोहन सिंह का अध्यादेश फाड़ा। राहुल गांधी के पास हिमंत बिस्व सरमा से मिलने का भी वक्त नहीं था। सरमा से मिलने की जगह राहुल गांधी (Rahul Gandhi) कुत्ते को खिला रहे थे। यही वजह है कि ज्यादातर नेता कांग्रेस छोड़ गए हैं। पढ़िए मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का इंटरव्यू...

सवाल: क्या आप विदिशा सीट से सबसे बड़ी जीत का लक्ष्य लेकर चल रहे हैं?

जवाब: यह चुनाव हार और जीत का है ही नहीं। प्रधानमंत्री के 400 कमलों में से सबसे सुंदर कमल विदिशा से खिलाकर देंगे। यह हमारा लक्ष्य है। पूरे विदिशा में उत्सव सा माहौल है। विदिशा से मेरा आत्मा का रिश्ता है। विदिशा के लोग कह रहे हैं कि आपको चुनाव प्रचार करने के लिए आने की आश्वश्यकता नहीं है। उल्लेखनीय है कि पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान विदिशा से पांच बार लोकसभा चुनाव जीत चुके हैं।

सवाल: कांग्रेस में भगदड़ और इन नेताओं के आने से भाजपा में आंतरिक विरोध बढ़ रहा है। इस पर आप क्या कहेंगे?

जवाब: मल्लिकार्जुन और राहुल गांधी के नेतृत्व में अब वो कांग्रेस नहीं बची है। अब कांग्रेस दिशाहीन हो चुकी है। कांग्रेस में एक ही परिवार का महिमा मंडन से उसके नेता परेशान हो चुके हैं। यही वजह है कि वे भाजपा में आ रहे हैं।

आंतरिक विरोध के सवाल पर शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि यह कांग्रेस में है। भाजपा में नहीं। भाजपा परिवार की नहीं बल्कि कार्यकर्ताओं को परिवार मानने वाली पार्टी है। यहां सब घुल मिल जाते हैं। राहुल गांधी महात्मा गांधी के कथन 'आजादी के बाद कांग्रेस को समाप्त कर देना चाहिए' को पूरा करने में जुटे हैं।

सवाल: भाजपा ने कई महिलाओं को टिकट दिया, कई चेहरों को बदला, इस चुनाव को कैसे देखते हैं आप?

जवाब: भाजपा हमेशा महिलाओं के उत्थान का काम करती है। पार्टी ने छह महिलाओं को उम्मीदवार घोषित किया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने महिलाओं का प्रतिनिधित्व बढ़ाया है। इससे भाजपा की महिला उत्थान की मंशा साफ जाहिर है। पार्टी करके दिखाने पर विश्वास करती है। मैं दावे के साथ कह रहा हूं कि पार्टी सभी सीटों पर जीतने वाली है।

सवाल: राजगढ़ पर आपकी क्या रणनीति है, यहां से दिग्विजय सिंह चुनाव मैदान में है

जवाब: साल 2014 में यहां की जनता ने विकास के नाम पर भाजपा को समर्थन दिया था। 2019 में भी पार्टी ने चार लाख से अधिक मतों से जीत दर्ज की थी। 2014 में पार्टी यहां से दो लाख से अधिक वोटों से जीती थी। दिग्विजय सिंह बेमन चुनाव लड़ रहे हैं। नामांकन से पहले ही वे ईवीएम को दोषी ठहरा रहे हैं। राजगढ़ की जनता भाजपा को पहले से भी अधिक वोटों से जिताएगी।

सवाल: भाजपा क्या इस बार भेद पाएगी छिंदवाड़ा का गढ़

छिंदवाड़ा लोकसभा क्षेत्र में इस बार कमल खिलेगा। यह वहां की जनता ने भी तय किया है। कांग्रेस नेता भी समझ चुके हैं कि छिंदवाड़ा में विकास सिर्फ भाजपा करवा सकती है। यही वजह है कि लगातार कांग्रेस नेता भाजपा ज्वाइन कर रहे हैं। पिछले चुनाव में हार जीत का अंतर सिर्फ 37 हजार मतों का था।

यह भी पढ़ें: जनता से पहले देवताओं के दर नतमस्‍तक उम्‍मीदवार; कंगना ने यहां मांगी मन्‍नत तो तिरुपति बालाजी में माथा टेक चुके CM सुक्खू

यह भी पढ़ें: जानें मध्य प्रदेश की इन आठ सीटों का हाल, किसके सामने कौन है चुनौती; कहीं मतभेद तो कहीं एंटी इनकंबैंसी


Jagran.com अब whatsapp चैनल पर भी उपलब्ध है। आज ही फॉलो करें और पाएं महत्वपूर्ण खबरेंWhatsApp चैनल से जुड़ें
This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.